Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

CAA Protest: शरजील इमाम के खिलाफ कार्रवाई तेज, क्या है पीएफआई संगठन, कैसे करता है काम

CAA Protest: नागरिकता संशोधन कानून को लेकर यूपी में हुई हिंसा के मामले में पीएफआई संगठन सवालों के घेरे में, शरजील इमाम का लिंक निकल आया है।

CAA Protest: शरजील इमाम के खिलाफ कार्रवाई तेज, क्या है पीएफआई संगठन, कैसे करता है काम

CAA Protest: नागरिकता संशोधन कानून को लेकर लगातार देश के कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन हो रही है, बीते दिनों उत्तर प्रदेश में हुई हिंसा के मामले में योगी सरकार ने सख्त कदम उठाया है। एक तरफ जहां शरजील इमाम को दिल्ली की क्राइम ब्रांच ने बिहार से गिरफ्तार किया तो वहीं यूपी में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया संगठन भी सवालों के घेरे में आ गया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हाल ही में एएमयू में दिए देश विरोधी भाषण में जेएनयू छात्र शरजील इमाम का एक वीडियो वायरल हुआ। जिसमें उसने देश विरोधी बयान दिया था। शरजील इमाम को एक वीडियो में भारत से असम को अलग कर देने की बात कही गई। वीडियो में कहा कि जब हम भारत से असम को अलग कर देंगे तब ये लोग हमारी बात सुनेंगे। वहीं वो शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन के आयोजकों में से एक हैं और यहां भी उन्होंने देश विरोधी भाषण दिया था।

दिल्ली ही नहीं अन्य जगहों पर पीएफआई संगठन की मदद से हो रहे प्रदर्शन

उत्तर प्रदेश में सीएए को लेकर हुई हिंसा के मामले में इस्लामिक कट्टरपंथी संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया की मदद से ये सभी प्रदर्शन हुए। जो हिंसा हुई वो इसी संगठन के द्वारा प्रायोति थी। राज्य के पुलिस महानिदेशक जितेश अवस्थी ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने पिछले चार दिनों में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के 108 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है।

क्या है पीएफआई

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया एक कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन है। जो अपने समाज के लिए आवाज उठाता है और लोगों के लिए काम करता है। इस संगठन की स्थापना साल 2006 में की गई थी। इसकी स्थापना केरल से है लेकिन मुख्यालय दिल्ली के शाहीन बाग में बना हुआ है। ऐसे में शाहीन बाग में बीते एक महीने से ज्यादा समय से लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इसी दौरान शरजील इमाम ने भी देशविरोधी बयान यहां से दिया था। पुलिस ने शरजील का लेपटॉप जब्त कर लिया है। फिलहाल, पुलिस शरजील से पुछताछ कर रही है।

Next Story
Top