Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भाजपा सांसद का विवादित बयान, BSNL कर्मचारियों को बताया गद्दार

सरकार की तरफ से बीएसएनएल कर्मचारियों को दिए जा रहे वीआरएस को इससे जोड़ते हुए कहा कि 88 हजार से अधिक कर्मचारियों को निकाला जाए। क्योंकि केंद्र की मोदी सरकार बीएसएनएल का निजीकरण करेगी।

भाजपा सांसद का विवादित बयान, BSNL  कर्मचारियों को बताया गद्दार
X

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद अनंत कुमार हेगड़े अपने विवादित बयान की वजह से सुर्खियों में हैं। भजपा सांसद ने उत्तरा कन्नड़ जिले के कुमता में एक कार्यक्रम के दौरान भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) के कर्मचारियों को गद्दार बताया है। उनका कहना है कि बीएसएनएल के कर्मचारी गद्दार हैं, जो एक नाम कंपनी को आगे बढ़ाने के लिए काम नहीं करना चाहते हैं। सरकार की तरफ से बीएसएनएल कर्मचारियों को दिए जा रहे वीआरएस को इससे जोड़ते हुए कहा कि 88 हजार से अधिक कर्मचारियों को निकाला जाए। क्योंकि केंद्र की मोदी सरकार बीएसएनएल का निजीकरण करेगी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हेगड़े ने यह बयान 10 अगस्त को दिया था। हेगड़े के इस बयान की प्रतिक्रिया हो रही है। उपभोक्ताओं के अनुसार, सरकारी बीएसएनएल और गैर सरकारी किसी भी मोबाइल कंपनी की तुलना की जाए तो वे सभी अपने कार्यों और सेवाओं के प्रति सजग नजर आती है। उनके इस बयान का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में वे कहते हुए दिख रहे हैं कि सरकारी स्वामित्व वाली बीएसएनएल देश पर एक धब्बा है। क्योंकि पैसा , बुनियादी ढांचा और बाजार उपलब्ध कराने के बाद भी टेलीकॉम कंपनी के नारी काम करने से मना कर देते हैं।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल में मंत्री रहे चुके अनंत हेगड़े कई बार विवादित बयान दे चुके हैं। हेगड़े ने फरवरी में महात्मा गांधी के उपवास और सत्याग्रह को ड्राम करार दिया था। इसके बाद उन्हें पार्टी के उच्च नेतृत्व की नाराजगी का सामना करना पड़ा और पार्टी ने उन्हें माफी मांगने को कहा था।

Next Story