Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने साबरमती आश्रम पहुंचकर चलाया चरखा- बुक में लिखा खास संदेश, जानें क्या दिया जाएगा उपहार

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन अहमदाबाद के साबरमती आश्रम पहुंचे। यहां पर उन्होंने चरखा भी चलाया। इस दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल मौजूद रहें।

ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने साबरमती आश्रम पहुंचकर चलाया चरखा- बुक में लिखा खास संदेश, जानें क्या दिया जाएगा उपहार
X

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (British Prime Minister Boris Johnson) 2 दिवसीय दौरे पर भारत पहुंच गए हैं। अहमदाबाद एयरपोर्ट (Ahmedabad Airport) पर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को सीएम भूपेंद्र पटेल ने स्वागत किया। इस मौके पर गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत के अलावा कई नेता मौजूद रहे।

साबरमती आश्रम पहुंचे पीएम बोरिस जॉनसन, बुक में लिखा ये संदेश

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन अहमदाबाद के साबरमती आश्रम पहुंचे। यहां पर उन्होंने चरखा भी चलाया। इस दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल मौजूद रहें। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, अहमदाबाद में गांधी आश्रम में बुक में यूके के पीएम बोरिस जॉनसन एक संदेश लिखा। यूके पीएम ने लिखा कि इस असाधारण व्यक्ति (महात्मा गांधी) के आश्रम में आना और यह समझना एक बहुत बड़ा सौभाग्य है कि कैसे उन्होंने दुनिया को बेहतर बनाने के लिए सत्य और अहिंसा के ऐसे सरल सिद्धांतों को लामबंद किया।

गांधी की शिष्या बनी मेडेलीन स्लेड की अत्मकथा पीएम को उपहार में दी जाएगी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, महात्मा गांधी की शिष्या बनी मेडेलीन स्लेड उर्फ मीराबेन की आत्मकथा 'द स्पिरिट्स पिलग्रिमेज' यूके के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को साबरमती आश्रम द्वारा उपहार में दी जाएगी। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, मेडेलीन स्लेड उर्फ मीराबेन ब्रिटिश रियर-एडमिरल सर एडमंड स्लेड की बेटी थीं। 'गाइड टू लंदन' महात्मा गांधी द्वारा लिखी गई पहली कुछ पुस्तकों में से एक है जो कभी प्रकाशित नहीं हुई। साबरमती आश्रम द्वारा यूके के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को ये पुस्तक भी उपहार में दी जाएगी।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने चलाया चरखा- देखें वीडियो

और पढ़ें
Next Story