Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महाराष्ट्र: बीएमसी ने सार्वजनिक स्थानों पर पटाखे फोड़ने पर लगाया प्रतिबंध, दिवाली पर सिर्फ दो घंटे मिलेंगे छूट

महाराष्ट्र: बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने दिवाली पर केवल फुलझड़ी, अनार जैसे ध्वनिरहित पटाखों के उपयोग की अनुमति दी। इस दौरान, लोग केवल दो घंटे के लिए पटाखे फोड़ सकते हैं।

महाराष्ट्र: बीएमसी ने सार्वजनिक स्थानों पर पटाखे फोड़ने पर लगाया प्रतिबंध, दिवाली पर सिर्फ दो घंटे मिलेंगे छूट
X

महाराष्ट्र: बीएमसी ने सार्वजनिक स्थानों पर पटाखे फोड़ने पर लगाया प्रतिबंध

महाराष्ट्र: बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने अपने अधिकार क्षेत्र में आने वाले सार्वजनिक स्थानों पर पटाखे फोड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया है। बीएमसी के मुताबिक, फूलझड़ी, अनार जैसे ध्वनिरहित पटाखों का उपयोग केवल दिवाली पर ही उपयोग किया जा सकता है।

ऐसे पटाखों को दीवाली की रात 8 बजे से रात 10 बजे के बीच जलाया जा सकता है। इसके पहले दिल्ली सरकार ने भी पटाखों पर बैन लगा चुके हैं। पटाखों पर बैन केवल मुंबई और दिल्ली में ही नहीं किया गया। एन.जी.टी. ने उन राज्यों को भी लेकर सख्त निर्देश दिए हैं, जिन राज्यों में वायु की गुणवत्ता मध्यम या उससे नीचे है।

दो घंटे ही पटाखे फोड़ने पर मिलेंगे छूट

ऐसे क्षेत्रों में केवल हरे रंग के पटाखे बेचे जा सकते हैं। वहीं, दीपावली, छठ, नव वर्ष, क्रिसमस के दौरान केवल दो घंटे ही पटाखे फोड़ने की छूट दी गई है। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने कहा कि दिल्ली-NCR में 30 नवंबर तक पटाखों के चलाने पर रोक लगा दी।

साथ ही एयर क्वालिटी खराब या खतरनाक स्तर पर वाले राज्यों में पटाखे फोड़ने पर बैन रहेगा।

दिवाली के बाद अगले 15 दिन काफी अहम

वहीं, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को कहा कि प्रदूषण कोविड-19 के प्रभाव और ज्यादा बढ़ा सकता है। ऐसे में लोगों से अपील है कि पटाखे न जलाए। उन्होंने कहा कि इस बार सभी मिट्टी के दीपक जलाएं। दिवाली के बाद अगले 15 दिन काफी अहम होंगे।

ऐसे में सभी को सतर्कता बरतनी चाहिए, ताकी दोबारा से लॉकडाउन जैसी स्थिति ना उत्पन्न हो।

दिवाली को लेकर जारी की गई थी गाइडलाइन

इससे पहले महाराष्ट्र सरकार ने दिवाली को लेकर गाइडलाइन जारी की थी। गाइडलाइन के मुताबिक, महाराष्ट्र सरकार ने लोगों से अपील की थी कि कोरोना संक्रमण के प्रभाव को देखते हुए दिवाली पर पटाखे जलाने की कोशिश न करे। इससे प्रदुषण का लेवल बढ़ सकता है।

जिससे संक्रमित मरीजों को सांस लेने की परेशानी बढ़ सकती है। वहीं, कोरोना संक्रमण की रफ्तार भी बढ़ सकती है। इसलिए इस साल दिवाली पर सभी को पटाखे फोड़ने से बचना चाहिए। सरकार ने कहा कि साथ ही उन लोगों से भी आग्रह करूंगा जो पटाखे की बिक्री करते हैं।

इस साल राज्य के लोगों से अपील है कि आप दिवाली सादगी से साथ घर में मनाइए। कोरोना काल में जैसे बाकी के पर्व मनाए हैं, वैसे ही दिवाली पर भी सबके साथ स्वस्थ होकर आनंद उठाइए।

Priyanka Kumari

Priyanka Kumari

Jr. Sub Editor


Next Story