Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुख्तार अब्बास नकवी ने सीएए पर दिया बड़ा बयान, कहा मुसलमानों को भगाया तो मेरी लाश से गुजरना होगा

मुख्तार अब्बास नकवी ने अपने बयान में कहा कि अगर इस सरकार ने मुसलमानों को देश से निकालने की कोशिश की, तो उन्हें सबसे पहले मेरी लाश से गुजरना होगा।

बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नक़वी ने सीएए पर दिया अपना बयान, कहा मुसलमानों को भगाया तो मेरी लाश से गुजरना होगामुख्तार अब्बास नकवी: फाइल फोटो

सीएए और एनआरसी के खिलाफ पूरे देश में प्रदर्शन चल रहा है। कई जगहों पर महिलाएं भी सरकार के खिलाफ दिन-रात विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। इन्हीं मुद्दों पर मीडिया से बातचीत के दौरान मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों से सही से बातचीत नहीं हो रही है। उन्होंने कहा कि सीएए किसी की भी नागरिकता को खत्म करने के लिए नहीं है। हिन्दूस्तान में रहने वाले हर नागरिक का अधिकार पूरी तरह से सुरक्षित है। जो लोग इस आंदोलन को भड़का रहे हैं, उनको भी मालूम है कि सरकार सीएए को वापस नहीं लेगी।

मुख्तार अब्बास नक़वी की लाश पर से गुजरना होगा

उन्होंने कहा कि जो लोग इस आंदोलन को भड़का रहे हैं, वो लोग पाप कर रहे हैं। खुदा उन्हें कभी माफ नहीं करेगा। उनको पता है कि वो लोगों को मना नहीं सकते। इसलिए वो उन्हें कन्फ्यूज कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि जिस दिन ये सरकार हिंदुस्तान के मुसलमानों को भगाने की बात कहेगी, उस दिन सबसे पहले उन्हें मुख्तार अब्बास नक़वी की लाश पर से गुजरना होगा।

सीएए हिंदुस्तान के नागरिकों के खिलाफ नहीं

उन्होंने आगे कहा कि इस देश में अल्पसंख्यक बच्चों को साढ़े तीन करोड़ से ज्यादा छात्रवृत्तियां दी गई। पीएम आवास योजना के अन्तर्गत भी 38 प्रतिशत मुसलमानों को आवास दिए गए। गांवों में बिजली पहुंचाई गई। उन गावों में 37 प्रतिशत आबादी मुसलमानों की थी। उन्होंने कहा कि सीएए और एनआरसी हिंदुस्तान के नागरिकों के खिलाफ नहीं है।

कौन हैं मुख्तार अब्बास नक़वी

मुख्तार अब्बास नक़वी भारत सरकार में अलपसंख्यकों के मामलों के कैबिनेट मंत्री हैं। वो बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रह चुके हैं। साथ ही अटल बिहारी वाजपेयी के सरकार में वो केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री भी थे।

Next Story
Top