Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Bihar Exit Polls Date & Time: जानें कब आएंगे बिहार के एग्जिट पोल, यहां देखें कौन बनेगा मुख्यमंत्री

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और आखिरी चरण के चुनाव के बाद शनिवार को शाम छह बजे के बाद एग्जिट पोल के आंकड़े जारी किए जाएंगे। तमाम सर्वे एजेंसी और न्‍यूज चैनलों के आंकड़े यहां डीटेल में जारी किए जाने हैं।

Bihar Exit Polls Date & Time: जानें कब आएंगे बिहार के एग्जिट पोल, यहां देखें किसकी जीत-किसकी हार
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और आखिरी चरण के चुनाव के बाद शनिवार को शाम छह बजे के बाद एग्जिट पोल के आंकड़े जारी किए जाएंगे। तमाम सर्वे एजेंसी और न्‍यूज चैनलों के आंकड़े यहां डीटेल में जारी किए जाने हैं। हालांकि हम इसकी प्रमाणिकता की पुष्टि नहीं करते। एग्जिट पोल कई दफा सही नहीं होते। चुनाव के तुरंत बाद एग्जिट पोल जारी किए जाने की परंपरा रही है। इसके लिए बाकायदा सर्वे एजेंसियां अलग-अलग विधानसभा क्षेत्रों में अपने प्रतिनिधि के द्वारा एक निश्चित सैंपल के साथ आंकड़े जुटाती है।

जिसमें मतदाताओं से बातचीत के आधार पर उनके द्वारा विभिन्‍न पार्टियों को दिए गए मतों की गणना की जाती है। इसके आधार पर ही उम्‍मीदवार और पार्टियों की जीत-हार का कयास लगाया जाता है। आम तौर पर एग्जिट पोल चुनाव के आखिरी नतीजे के करीब माने जाते हैं। लेकिन भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में अब तक बहुत बार एग्जिट पोल के आंकड़े सच साबित नहीं हुए हैं।

बिहार चुनाव के एग्जिट पोल के जरिए आप अनुमान लगा सकते हैं कि इस बार बिहार की जनता किस पर भरोसा जता रही है। हालांकि, यह स्पष्ट कर दें कि एग्जिट पोल पूरी तरह से सटीक होंगे ऐसा कतई नहीं है। कई बार एग्जिट पोल सही भी होते हैं तो कई बार गलत भी साबित होते रहे हैं।10 नवंबर को वोटों की गिनती होने के बाद ही बिहार चुनाव के फाइनल रिजल्ट आएंगे।

10 नवंबर को आएंगे फाइनल चुनाव नतीजे

इस चुनाव में मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन और विपक्षी महागबंधन के बीच माना जा रहा है। तीसरे और आखिरी फेज में सीमांचल, कोसी और तिरहुत इलाके के 15 जिलों की 78 सीटों पर वोट पड़ रहे हैं। काफी सीटें उत्तर बिहार में और राज्य में गंगा नदी के उत्तर में स्थित हैं। इनमें से कई सीटें कोसी-सीमांचल क्षेत्र में स्थित है जहां एनडीए और महागठबंधन की लड़ाई में एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी का अच्छा खासा प्रभाव माना जाता है। हैदराबाद के सांसद ओवैसी की पार्टी ने मुस्लिमों की अच्छी खासी आबादी वाले इस इलाकों में अपने उम्मीदवार उतारे हैं और जमकर चुनाव प्रचार किया है।

Next Story