Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार में सुशासन बाबू हो रहे फेल: जहरीली शराब से औरंगाबाद और गया में 10 लोगों की मौत, जांच में जुटी पुलिस

ताजा मामला औरंगाबाद और गया (Aurangabad and Gaya) जिलों में पिछले 24 घंटे के भीतर जहरीली शराब पीने से 10 लोगों की मौत को लेकर है।

बिहार में सुशासन बाबू हो रहे फेल: जहरीली शराब से औरंगाबाद और गया में 10 लोगों की मौत, जांच में जुटी पुलिस
X

बिहार (Bihar) में जहरीली शराब (spurious liquor) से मौतों का सिलसिला हर महीने सामने आ जाता है। बिहार में सुशासन बाबू के द्वारा लगाई गई रोक और दरोगा को दी चेतावनियों के बाद भी पुलिस (Police) जहरीली शराब से होने वाली मौतों को रोकने में नाकामयाब हो रही है। ताजा मामला औरंगाबाद और गया (Aurangabad and Gaya) जिलों में पिछले 24 घंटे के भीतर जहरीली शराब पीने से 10 लोगों की मौत को लेकर है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, औरंगाबाद और गया में 10 लोगों की मौत जहरीली शराब पीने से हो गई है। एक दर्जन लोग बीमार हैं। जिनका इलाज चल रहा है। हालांकि पुलिस और अधिकारी शराब पीने से हुई मौत से इनकार कर रहे हैं। फिलहाल, पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। कुछ आंकड़े बताते हैं कि औरंगाबाद जिले में सात और गया जिले में 3 लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हुई है।

लोगों की मौत के बाद कई परिजनों का कहना है कि सभी ने जहरीली शराब पी थी, जिसकी वजह से उनकी मौत हुई है। कई लोगों की अभी भी हालत गंभीर है। कई लोगों के आंखों की रोशनी चली गई। इस पूरी खबर के बाद पूरे गांव में अफरातफरी का माहौल बना हुआ है।

जबकि दूसरी तरफ इस मामले को लेकर प्रशासन सतर्क हो गया है। लेकिन पुलिस और अधिकारी अभी इसकी पुष्टि नहीं कर रहे हैं। सोमवार की रात मदनपुर थाना क्षेत्र के खिरियावां गांव के सात लोगों की मौत हो गई। परिजनों ने कहा कि सभी लोग शाम को शराब पीकर घर आए थे और घर आते ही सभी को उल्टी होने लगी। जिसके बाद कई के सिर में दर्द और आंखों में जलन होने लगी। जबकि लोगों की हार्ट अटैक से मौत हुई है। ऐसे में पुलिस इस मामले की पड़ताल में जुट गी है। अब तक पुलिस ने शराब तस्करों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी रखे हैं, 70 तस्कर गिरफ्तार हो चुके हैं।

और पढ़ें
Next Story