Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बड़ी खबर : लॉक डाउन बना संकट, तिरुपति बालाजी मंदिर के 13 सौ कर्मचारी नौकरी से निकाले गए बाहर

तिरुपति बालाजी मंदिर में कार्य करने वाले 13 सौ कर्मचारियों को नौकरी से बाहर निकाल दिया गया है।

बड़ी खबर : लॉक डाउन बना संकट, तिरुपति बालाजी मंदिर के 13 सौ कर्मचारी नौकरी से निकाले गए बाहर
X

देश के सबसे धनवान मंदिरों में शुमार तिरुपति बालाजी मंदिर में कार्य करने वाले 13 सौ कर्मचारियों को नौकरी से बाहर निकाल दिया गया है। इसकी वजह उनके कॉन्ट्रैक्ट की मियाद पूरी होना बताया जा रहा है। जो 30 अप्रैल को खत्म हो गई थी और 1 मई से नया कॉन्ट्रैक्ट रिन्यू करने से प्रशासन ने मना कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आंध्र प्रदेश के तिरुपति बालाजी मंदिर में काम करने वाले 1300 कर्मचारियों को बाहर निकाल दिया गया है। इन कर्मचारियों का कॉन्ट्रैक्ट 30 अप्रैल को खत्म हो गया था। जिसकी वजह से प्रबंधन ने 1 मई से होने वाले नए कॉन्ट्रैक्ट को रिन्यू करने से मना कर दिया।

बता दें कि लॉक डाउन की वजह से प्रबंधन को काफी नुकसान हो रहा है। ट्रस्ट के प्रवक्ता ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि यह सभी फैसले कानून के मुताबिक लिए गए हैं। काम बंद होने की वजह से कर्मचारियों का कॉन्ट्रैक्ट रिन्यू नहीं किया जा रहा है। तिरुपति बालाजी मंदिर के अध्यक्ष वाइफ सी वाय बी सुब्बारेड्डी ने कहा कि लॉक डाउन की वजह से सभी गेस्ट हाउस बंद हैं। जिसकी वजह से इन कर्मचारियों का कॉन्ट्रैक्ट आगे नहीं बनाया जा रहा है।

जानकारी के लिए बता दें कि यह सभी कर्मचारी 3 गेस्ट हाउस में कई सालों से रह रहे थे और काम कर रहे थे। लेकिन कोरोना संकट के बीच लॉक डाउन की वजह से प्रबंधन ने कॉन्ट्रैक्ट पर काम कर रहे। कर्मचारियों को मंदिर आने से मना कर दिया है।

फिलहाल कोरोना वायरस के चलते मंदिर बीती 20 मार्च से बंद है। लेकिन यहां पर मंदिर में सुबह-शाम को पूजा होती है। बता दें कि कोरोना संकट के चलते देश भर के तमाम उद्योग, बड़े बिजनेस सभी बंद है। जिसकी वजह से देश को काफी आर्थिक नुकसान हो रहा है।

Next Story