Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कन्हैयालाल हत्याकांड में NIA का बड़ा खुलासा, आरोपियों के निशाने पर था एक और शख्स, आतंकियों के वाट्सएप ग्रुप में रची गई थी साजिश

राजस्थान (Rajasthan) के उदयपुर में हुई नृशंस हत्याकांड में नए खुलासे हो रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक अब तक की जांच में पता चला है कि इस हत्याकांड में मोहम्मद रियाज (Mohammad Riaz) और गौस मोहम्मद (Ghaus Mohammad) अकेले नहीं थे, बल्कि उनका एक समूह है जिसमें एक दर्जन से ज्यादा लोग शामिल हैं।

कन्हैयालाल हत्याकांड में NIA का बड़ा खुलासा, आरोपियों के निशाने पर था एक और शख्स, आतंकियों के वाट्सएप ग्रुप में रची गई थी साजिश
X

राजस्थान (Rajasthan) के उदयपुर में हुई नृशंस हत्याकांड में नए खुलासे हो रहे हैं। वहीं कन्हैया लाल की हत्या में शामिल दोनों आरोपी गौस मोहम्मद और मोहम्मद रियाज को अजमेर जेल में शिफ्ट कर दिया गया है. सूत्रों के मुताबिक अब तक की जांच में पता चला है कि इस हत्याकांड में मोहम्मद रियाज (Mohammad Riaz) और गौस मोहम्मद (Ghaus Mohammad) अकेले नहीं थे, बल्कि उनका एक समूह है जिसमें एक दर्जन से ज्यादा लोग शामिल हैं। उनके समूह में पाकिस्तान के कुछ लोग भी हैं जिनके कई आतंकवादी संगठनों (Terrorist Organizations) से संबंध हैं।

कन्हैया को मारने के पीछे उनका मकसद सिर्फ दहशत फैलाना था। कन्हैयालाल (Kanhaiyalal) के अलावा आरोपी रियाज और गोस मोहम्मद के निशाने पर एक और शख्स था। पुलिस सूत्रों के अनुसार आरोपी रियाज और गोस मोहम्मद के निशाने पर कन्हैयालाल के अलावा नितिन जैन (Nitin Jain) नाम का शख्स भी था। पुलिस की पूछताछ में दोनों आरोपितों ने यह खुलासा किया है।

सूत्रों के अनुसार आरोपी ने कहा कि हत्या का कोई पछतावा नहीं है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक दोनों आरोपी काफी लंबे समय से तक हत्या के तालिबानी वीडियो देखते रहते थे। वह सोशल मीडिया (Social Media) पर नूपुर शर्मा से जुड़ी खबरें भी नजर रख रहे थे।

तीन व्हाट्सएप ग्रुप थे, जिनमें बड़ी संख्या में कट्टरपंथी जुड़े थे, जहां आपत्तिजनक वीडियो शेयर किए जा रहे थे। इन ग्रुपों में नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) मामले में पोस्ट करने वालों को चुन-चुन कर निशाना बनाया जा रहा था। हालांकि इसके निशाने पर कई बड़े लोग थे लेकिन वे उनकी पहुंच से बहुत दूर थे।

और पढ़ें
Next Story