Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एयर इंडिया के लिए बोली की समय सीमा तीसरी बार बढ़ाई गई, 31 अगस्त तय की गई डेडलाइन

सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के कारण दुनिया भर में आर्थिक गतिविधियों के बाधित हो जाने को देखते हुए एयर इंडिया के लिए बोली लगाने की समय सीमा को फिर से दो महीने के लिए बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया है। यह तीसरी बार है, जब समयसीमा बढ़ाई गई है।

Coronavirus: आर्थिक संकट से गुजर रही एयर इंडिया, कई कर्मचारियों की हो सकती है छुट्टी
X
एयर इंडिया (फाइल फोटो)

सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के कारण दुनिया भर में आर्थिक गतिविधियों के बाधित हो जाने को देखते हुए एयर इंडिया के लिए बोली लगाने की समय सीमा को फिर से दो महीने के लिए बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया है। यह तीसरी बार है, जब समयसीमा बढ़ाई गई है।

सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया के विनिवेश की प्रक्रिया 27 जनवरी को शुरू की गई थी। निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) ने एयर इंडिया की बिक्री से संबंधित रूचिपत्र में एक बदलाव जारी करते हुए कहा कि कोरोना वायरस महामारी के कारण उत्पन्न परिस्थितियों को देखते हुए संभावित बोलीदाताओं से प्राप्त अनुरोधों के आधार पर समयसीमा बढ़ाई गई है।

जनवरी में जब पहली बार एयर इंडिया की बिक्री को लेकर रूचिपत्र जारी किया गया था, तब बोली लगाने की समयसीमा मार्च तक की रखी गई थी। इसे बाद में 30 अप्रैल तक और फिर 30 जून तक बढ़ा दिया गया था। अब इसे 31 अगस्त तक बढ़ा दिया गया है।

दीपम ने अपनी वेबसाइट पर डाले गए संशोधन में बताया कि इसके अलावा, अर्हताप्राप्त इच्छुक बोलीदाताओं को सूचित करने की तारीख को भी दो महीने के लिए बढ़ाकर 14 सितंबर तक कर दिया गया है। उसने कहा, यदि महत्वपूर्ण तारीखों को लेकर आगे कोई बदलाव किया जाता है तो इच्छुक बोलीदाताओं को उस बारे में सूचित कर दिया जाएगा।

महामारी के कारण अधिक मार झेलनी पड़ रही

उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस महामारी और उसके बाद लॉकडाउन ने वैश्विक स्तर पर आर्थिक गतिविधियों को बाधित किया है। विमानन क्षेत्र को कोरोना वायरस महामारी की अधिक मार झेलनी पड़ रही है। विमानन कंपनियों ने उड़ानों को रद्द कर दिया है और कर्मचारियों के वेतन में कटौती की घोषणा की है।

बीपीसीएल में बोली की समयसीमा भी बढ़ी

सरकार इससे पहले भारत पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (बीपीसीएल) में अपनी पूरी 52.98 प्रतिशत हिस्सेदारी के लिए बोली लगाने के लिए निवेशकों को दिए गए समय को बढ़ाकर 31 जुलाई कर दिया है। इसकी शुरुआती समय सीमा दो मई तक थी, जिसे पहले 13 जून तक बढ़ा दिया गया था।

Next Story