Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Babri Masjid Demolition: बाबरी विध्वंस की बरसी पर असदुद्दीन ओवैसी बोले, 'नई पीढ़ी को नहीं भूलने देंगे नाइंसाफी'

Babri Masjid Demolition: आज देश में बाबरी विध्वंस की 28वीं बरसी मनाई जा रही है। इस मौके पर एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बाबरी को लेकर बड़ा बयान दिया।

Babri Masjid Demolition: बाबरी विध्वंस की बरसी पर असदुद्दीन ओवैसी बोले, नई पीढ़ी को नहीं भूलने देंगे नाइंसाफी
X

एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी

Babri Masjid Demolition: आज देश में बाबरी विध्वंस की 28वीं बरसी मनाई जा रही है। इस मौके पर एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बाबरी को लेकर बड़ा बयान दिया। उन्होंने अपने समर्थकों से अपील करते हुए कहा कि आप अपने अगली पीढ़ी को बाबरी के इतिहास के बारे में जानकारी दें।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ओवैसी ने कहा कि आप पीढ़ियों को बताए कि 400 सालों तक अयोध्या में बाबरी मस्जिद खड़ी थी। जहां हमारी पूर्वज रहते थे। मौत के बाद आस-पास के कब्रिस्तान में उन्हें दफनाया जाता था। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया।


उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि अगली पीढ़ी को याद रखना और सिखाना कि 400 से ज्यादा वक्त तक हमारी बाबरी मस्जिद अयोध्या में खड़ी रही थी। हमारे पूर्वजों ने इसके हॉल में प्रार्थना करते थे। वो परिसर में एक साथ अपना उपवास को तोड़ा करते थे। जब वे मर गए, तो उन्हें बगल के कब्रिस्तान में दफनाया दिया जाता था।

ओवैसी ने एक और ट्वीट भी किया जिसमें उन्होंने लिखा कि 22-23 दिसंबर 1949 की रात को हमारी बाबरी पर 42 साल तक नाजायज और अवैध कब्जे रहे। 1992 में इसी तारीख को हमारी मस्जिद को ध्वस्त कर दिया गया। इसके लिए जिम्मेदार लोगों को अभी तक कोई सजा तक नहीं दी गई। इस अन्याय को कभी मत भूलना।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के बाद बाबरी विध्वंस की यह पहली बरसी है। बाबरी विध्वंस के सभी आरोपी भी अदालत से बरी कर दिया गया। अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

और पढ़ें
Next Story