Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अयोध्या विवाद : सुप्रीम कोर्ट ने दलील के लिए हिन्दू- मुस्लिम पक्ष को दिया इतना समय

अयोध्या विवाद (Ayodhya Dispute) मामले की सुनवाई अंतिम दौर में हैं। इस मामले पर सुनवाई 17 अक्टूबर के बजाए 16 अक्टूबर को ही समाप्त होने की संभावना जताई जा रही है।

अयोध्या विवाद (फोटो- सुप्रीम कोर्ट)
X
अयोध्या विवाद (फोटो- सुप्रीम कोर्ट)

अयोध्या विवाद (Ayodhya Dispute) मामले की सुनवाई अंतिम दौर में हैं। इस मामले पर सुनवाई 17 अक्टूबर के बजाए 16 अक्टूबर को ही समाप्त होने की संभावना जताई जा रही है। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट में राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद जमीन विवाद में सुनवाई का 40वां और आखिरी दिन है। सीजेआई रंजन गोगोई ने इस मामले में सुनवाई के 39वें दिन इशारा दे दिया कि बुधवार को 70 साल पुराने विवाद पर बहस खत्म हो जाएगी।

हिन्दू- मुस्लिम पक्ष के कोर्ट ने दिया इतना समय

मिली जानकारी के मुताबिक सुनवाई के आखिरी दिन सीजेआई ने हिंदू पक्ष के वकील सीएस वैद्यनाथन से कहा कि हिन्दू पक्ष को कोर्ट में दलील रखने के लिए 45-45 मिनट का समय दिया जाएगा। जबकि मुस्लिम पक्ष को कोर्ट में दलील रखने के लिए एक घंटे का समय दिया जाएगा। बताया जा रहा है कि लंच के बाद पांच बजे तक सुनवाई होगी। इन तीन घंटे को समय को पक्षकार आपस में बांट सकते हैं। कोर्ट अब इस मामले पर इससे अधिक समय तक सुनवाई नहीं करेगा। इसी के साथ कोर्ट आज फैसला सुरक्षित रख सकता है।

सुप्रीम कोर्ट में 14 अपीलों पर सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट की बेंच उत्तर प्रदेश के अयोध्या में 2.77 एकड़ विवादित भूमि 3 पक्षकारों-सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और राम लला- के बीच बराबर-बराबर बांटने का आदेश देने संबंधी इलाहाबाद हाईकोर्ट के द्वारा सितंबर 2010 के फैसले के खिलाफ दायर 14 अपीलों पर सुनवाई कर रही है।

अयोध्या केस में 6 अगस्त से लगातार सुनवाई

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट में पांच जजों की बेंच 6 अगस्त 2019 से लगातार अयोध्या मामले की सुनवाई कर रही है। आज सुनवाई का 40वां और आखिरी दिन है। हिंदू पक्ष के वकील परासरण ने कोर्ट में 39वें दिन की सुनवाई के दौरान दलील देते हुआ कहा कि अयोध्या में 50 से 60 मस्जिद हैं, मुस्लिम समाज के लोग कहीं पर भी नमाज पढ़ सकते हैं। पर यह जन्मस्थान है, इसे बदला नहीं जा सकता।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story