Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

असम सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने कांग्रेस पर किया कटाक्ष- बोले- गांधी परिवार आज डर...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जो भी आरोप लगाया गया, सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने उसे पूरा झूठा करार दिया, इसे राजनीति से प्रेरित बताया।

असम सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने कांग्रेस पर किया कटाक्ष- बोले- गांधी परिवार आज डर...
X

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Assam CM Himanta Biswa Sarma) ने रविवार को हैदराबाद (Hyderabad) में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस (Congress) पर जमकर कटाक्ष किया है। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) ने गुजरात दंगों के ऊपर जो सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया है उसे ऐतिहासिक फैसला कहा है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला ऐतिहासिक है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जो भी आरोप लगाया गया, सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने उसे पूरा झूठा करार दिया, इसे राजनीति से प्रेरित बताया।

असम सीएम ने बताया कि गृह मंत्री अमित शाह ने विपक्ष के लिए कहा कि आज विपक्ष बिखरा हुआ है। कांग्रेस में लोकतंत्र स्थापित करने के लिए उसके ही सदस्य लड़ाई कर रहे हैं। गांधी परिवार डर के कारण अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं कर रहा है। शाह ने कहा कि कांग्रेस को 'मोदी फोबिया' हो गया है, कांग्रेस देशहित के हर निर्णय का विरोध करने लगी है। कांग्रेस पूरी तरह से हताशा और निराशा है।

कांग्रेस विरोध ही विरोध करती जा रही

सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक का विरोध, अनुच्छेद 370 खत्म करने का विरोध, जीएसटी का विरोध, आयुष्मान भारत का विरोध, वैक्सीन और वैक्सीनेशन का विरोध, सीएए का विरोध, राम मंदिर का विरोध, ऐसे ही हर विषय में कांग्रेस केवल विरोध ही विरोध करते जा रही है।

असम सीएम ने आगे बताया कि आमित शाह ने कहा, प्रधानमंत्री के शासन काल में दो राष्ट्रपति के चुनाव का अवसर आया। भाजपा ने एक बार दलित को और दूसरी बार एक महिला आदिवासी को चुना जो जमीन से जुड़ी रही हैं। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में बाहरी और आंतरिक सुरक्षा मजबूत हुई है। रक्षा क्षेत्र में व्यापक सुधार हुआ है। अनुच्छेद 370 को हटाकर जम्मू-कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बनाया है।

इसके अलावा असम सीएम ने बताया, आमित शाह ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के तीन प्रमुख अंग हैं।

1- सभी नाम-अनाम आजादी के सिपाहियों का सम्मान होना।

2- सभी सरकारों को अपने कार्यों का लेखा जनता के सामने रखना।

3- आजादी के अमृत काल में हम सभी संकल्प लें कि भारत फिर से विश्व गुरु के पद पर प्रतिष्ठित हो।

और पढ़ें
Next Story