Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

DRDO ने बनाई पहली स्वदेशी ASMI पिस्टल, जानें इसकी क्या है खासियत

ASMI Pistol : डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) द्वारा भारत की पहली स्वदेशी मशीन पिस्तौल (ASMI) को संयुक्त रूप से विकसित किया गया है। डीआरडीओ द्वारा भारतीय सेना ने की मदद से विकसित की गई पिस्तौल को रक्षा बलों में 9 मिमी पिस्तौल को बदलने के लिए तैयार किया गया है।

डीआरडीओ ने बनाई देश की पहली स्वदेशी मशीन पिस्तौल, सेना जल्द करेंगी इसका इस्तेमाल
X

स्वदेशी पिस्तौल

ASMI Pistol : डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) द्वारा भारत की पहली स्वदेशी मशीन पिस्तौल (ASMI) को संयुक्त रूप से विकसित किया गया है। डीआरडीओ द्वारा भारतीय सेना ने की मदद से विकसित की गई पिस्तौल को रक्षा बलों में 9 मिमी पिस्तौल को बदलने के लिए तैयार किया गया है।

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, ये मशीन पिस्तौर इजरायल की उजी श्रृंखला की तोपों में शामिल हैं। ये 100 मीटर की दूरी पर फायर करने में सक्षम है।

इस मशीन पिस्टल ने अपने विकास के अंतिम चार महीनों में 300 से ज्यादा राउंड फायर किए हैं। भारत की पहली स्वदेशी मशीन पिस्टल एएसएमआई आज सेना के नवाचार प्रदर्शन कार्यक्रम में दिखाई है। ऐसा माना जा रहा है कि जल्द ही इसे भारतीय सेना को इस्तेमाल करने के लिए दिया जाएगा।

Next Story