Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Apache Helicopter: पाकिस्तान में रडार तोड़ कर अमेरिका ने ऑपरेशन 'ओसमा' को दिया था अंजाम, एक नहीं 5 हैं खूबियां

भारतीय वायु सेना ने मंगलवार को पठानकोट एयरबेस पर एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ की मौजूदगी में 8 अपाचे हेलीकॉप्टरों को शामिल किया गया। दुनिया के मॉस्ट वांटेड आतंकी और 9/11 के हमलावर ओसामा बिन लादेन को पकड़ने के लिए अमेरिका ने इस लड़ाकू विमान का इस्तेमाल किया था।

Apache Helicopter: पाकिस्तान में रडार तोड़ कर अमेरिका ने ऑपरेशन ओसमा को दिया था अंजाम, एक नहीं 5 हैं खूबियांApache Helicopter Pakistan American operation osama bin laden 5 qualities

भारतीय वायु सेना ने मंगलवार को पठानकोट एयरबेस पर एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ की मौजूदगी में 8 अपाचे हेलीकॉप्टरों को शामिल किया गया। ये लड़ाकू विमान अपाचे एएच -64 ई आतंकवाद और किसी भी मौसम में कार्रवाई करने में सक्षम हैं। ये हेलीकॉप्टर वायुसेना की ताकत को और बढ़ावा देंगे।

वायुसेना प्रमुख ने की तारीफ

पठानकोट एयरबेस में हुए समारोह के दौरान वायुसेना प्रमुख मार्शल बीएस धनोआ मुख्य अतिथि थे। वायुसेना प्रमुख और पश्चिमी वायु कमांडर एयर मार्शल आर नांबियार ने पहले पूजा पाठ की और उसके बाद इन हेलीकॉप्टरों को शामिल किया गया। इसकी ताकत को लेकर धनोआ ने भी खुलकर तारीफ की। भारत अपाचे हमले के हेलीकाप्टरों का संचालन करने वाला दुनिया का 16 वां देश बन गया है। देश में 22 विमान आने हैं जो अगले कुछ चरणों में शामिल होते रहेंगे।

आतंकी ओसामा को पकड़ने के लिए हुआ था इस्तेमाल

इस लड़ाकू विमान को आसमान का सिकंदर भभी कहा जाता है जो बड़ी सटीकता के साथ घातक गोलाबारी करता है। वैसे बता दें कि इस विमान का इस्तेमाल अमेरिका ने दुनिया के मॉस्ट वांटेड आतंकी और 9/11 के हमलावर ओसामा बिन लादेन को पकड़ने के लिए किया था। इसी विमान के जरिए अमेरिकी सेना पाकिस्तान में घुसी थी और पूरी कार्रवाई को अंजाम दिया गया था। अपाचे पाकिस्तानी सेना की रडार में नहीं आ सका था।


एएच-64 अपाचे सबसे खतरनाक हेलीकॉप्टरों में से एक है। जो कभी भी और कहीं भी उतार सकता है। 1975 में अपनी पहली उड़ान के बाद से इस हेलीकॉप्टर ने कई बड़ी ऑपरेशनों के अंजाम दिया और कई देशों में निरंतर काम कर रहा है। अपाचे दो जनरल इलेक्ट्रिक टी700 टर्बोशाफ्ट इंजन को पैक करता है।

हेलीकॉप्टर की खासियतें

सबसे पहली बात इस हेलीकॉप्टर को दो पायलटों की मदद से उड़ाया जा सकता है। पायलट हवा से किसी भी टारगेट को उड़ा सकता है। यदि पायलट में से एक की मौत हो जाती है तो दूसरा पूरी तरह से उड़ाने में सक्षम होगा। चॉपर के 30 मिमी एम 230 चेन गन को ट्रैक करता है। एंटी टैंक मिसाइलों, हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलों और अधिक के रूप में कुछ गंभीर हथियार को भी मार गिराने में सक्षम है। इसकी सबसे बड़ी खासियत है कि ये लेजर से अपने टारगेट को निशाना बनाकर उड़ा सकता है।

ये हैं पांच खूबियां

1. ये अपाचे हेलीकॉप्टर एक टर्बोशफ्ट इंजन का 4 ब्लेड वाला लड़ाकू विमान है।

2. इस विमान की दूसरी खूबी है कि ये 265 किलो मीटर की रफ्तार से आमसान में उड़ता है।

3. तीसरी खूबी है कि यह लड़ाकू विमान किसी भी मौसम और रात में भी ऑपेशन को अंजाम दे सकता है।

4. चौथी खूबी कि इस फाइटर जेट से किसी भी रॉकेट और मिसाइलों को लाया जा सकता है।

5. पांचवीं बड़ी खूबी ये है कि इस हेलीकॉप्टर के जरिए दुश्‍मन की सीमा में घुसकर हमला करने में सक्षम है।

Next Story
Share it
Top