Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Air Pollution: दिल्ली समेत उत्तर भारत के इन राज्यों में वायु प्रदूषण से हाहाकार, सावधान रहने के लिए चेतावनी जारी

सफर की रिपोर्ट के मुताबिक, कई एजेंसियों से लिए गए डेटा के मुताबिक एक्यूआई का स्तर 450 से ऊपर रहा। प्रदूषण को लेकर एक्सपर्ट्स ने दिल्ली एनसीआर के सभी लोगों को चेतावनी दी है।

Air Pollution: दिल्ली समेत उत्तर भारत के इन राज्यों में वायु प्रदूषण से हाहाकार, सावधान रहने के लिए चेतावनी जारी
X

दिवाली की रात और अगली सुबह से देश की राजधानी दिल्ली में प्रदूषण (Delhi Pollution) की चादर ने पूरे शहर को घेर रखा है। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) और राज्य सरकार के द्वारा पटाखों की बिक्री और खरीदारी पर रोक के बावजूद पटाखे (Ban on Firecrackers) जलाए गए।

शहर का क्वालिटी इंडेक्स बीती रात से बढ़ता ही चला गया। जो गुरुवार शाम 4 बजे तक 382 पर था। इसके बाद शहर के कई इलाकों में रात 8 बजे तक तापमान में गिरावट और हवा की रफ्तार में कमी दिख रही है। दिल्ली के अलावा हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कई जिलों में भी प्रदूषण का स्तर खराब स्थिति में देखा गया। दिल्ली के एनसीआर शहरों जैसे फरीदाबाद (424), गाजियाबाद (442), गुरुग्राम (423) और नोएडा (431) में एयर क्वालिटी रात 9 बजे पीक पर थी।

सफर की रिपोर्ट के मुताबिक, कई एजेंसियों से लिए गए डेटा के मुताबिक एक्यूआई का स्तर 450 से ऊपर रहा। प्रदूषण को लेकर एक्सपर्ट्स ने दिल्ली एनसीआर के सभी लोगों को चेतावनी दी है और साथ ही यही सलाह दे रहे हैं कि घरों से बाहर हो सकें तो ना निकलें। अगर कोई जरूरी काम नहीं है तो खासकर बच्चे और बुजुर्ग घर से बाहर बिल्कुल ना जाएं।

एक्टसपर्ट का माननता है कि कोर्ट और सरकार के द्वारा लगाए गए पटाखों पर बैन सही तरीके से लागू नहीं हो सका। सिर्फ पटाखों पर बैन से ही प्रदूषण को कंट्रोल नहीं किया जा सकता है। इसके लिए हमें कई और चीजों पर भी रोक लगानी होगी। पराली आने वाले दिनों में खस्ता हाल कर सकती है। ये दमघोटू हवा आपके स्वास्थ्य को खराब कर सकती है। जलाए जाने वाले कूड़े के लिए सख्त प्लान बनाना होगा।

Next Story