Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Indian Air Force Day 2020 : हिंडन एयरबेस पर वायुसेना का शौर्य, आसमान में गरजा लड़ाकू राफेल विमान

भारतीय वायुसेना का आज 88वां स्थापना दिवस है। इस दिन वायुसेना अपनी ताकत दिखाती है। इस मौके पर गाजियाबाद में हिंडन एयरबेस पर समारोह का आयोजन किया गया है, जहां वायुसेना अपने शौर्य का प्रदर्शन करेगी।

indian air force day 2020 : हिंडन एयरबेस पर वायुसेना का शौर्य, आसमान में गरजेगा लड़ाकू राफेल विमान
X
वायु सेना दिवस 2020

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना का आज 88वां स्थापना दिवस है। इस दिन वायुसेना अपनी ताकत दिखाती है। इस मौके पर गाजियाबाद में हिंडन एयरबेस पर समारोह का आयोजन किया गया है, जहां वायुसेना अपने शौर्य का प्रदर्शन कर रही है। वायुसेना के विमान अपनी ताकत और क्षमता का प्रदर्शन कर रहे हैं। वार्षिक परेड में विभिन्न विमानों को प्रदर्शित किया गया। खास बात यह है कि आज की परेड में राफेल विमान ने भी हिस्सा लिया है। जिस पर आज सभी की निगाहें टिकी रही हैं।

क्यों मनाया जाता है वायु सेना दिवस

वर्ष 1932 में भारतीय वायु सेना की स्थापना के उपलक्ष्य में वायु सेना दिवस मनाया जाता है। इस साल वायुसेना 88वीं वर्षगांठ मनाएगी। गाजियाबाद में हिंडन एयरबेस पर वार्षिक परेड में विभिन्न विमानों को प्रदर्शित किया जाएगा। वायु सेना के एक अधिकारी ने बताया कि आज होने वाली परेड में वायु सेना दिवस की परेड में दूसरे विमानों के साथ ही राफेल विमान भी हिस्सा लेगा।

गरजेगा राफेल, दुश्मनों के हौसले होंगे पस्त

वायु सेना में औपचारिक रूप से 10 सितंबर को पांच राफेल लड़ाकू विमान शामिल किए गए थे। वायु सेना ने एक ट्वीट में कहा कि राफेल 4.5 पीढ़ी का लड़ाकू विमान है। दोहरे इंजन ओम्नीरोल के साथ हवाई टोही, सटीकता से वार, जहाज रोधी और परमाणु संपन्न, हथियारों से लैस है। इससे देश की वायु क्षमता में जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है। बहु-उद्देश्यीय भूमिका में कामयाब राफेल विमानों को सटीकता से हमला करने और वायु क्षेत्र में दबदबा कायम करने के लिए जाना जाता है। पांच राफेल विमान की पहली खेप 29 जुलाई को फ्रांस से भारत आ गयी थी। नवंबर तक चार से पांच और राफेल लड़ाकू विमानों के आने की संभावना है।

Next Story