Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

6 साल बाद भारत-पाकिस्तान के प्रधानमंत्री होंगे आमने-सामने! इन मुद्दों पर हो सकती हैं चर्चा

भारत (India) और पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री लगभग छह वर्षों के बाद उज्बेकिस्तान (Uzbekistan) में एक-दूसरे से मिलेंगे। लंबे समय के बाद ऐसा होगा कि भारत और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री एक ही छत के नीचे होंगे।

6 साल बाद भारत-पाकिस्तान के प्रधानमंत्री होंगे आमने-सामने! इन मुद्दों पर हो सकती हैं चर्चा
X

भारत (India) और पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री लगभग छह वर्षों के बाद उज्बेकिस्तान (Uzbekistan) में एक-दूसरे से मिलेंगे। लंबे समय के बाद ऐसा होगा कि भारत और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री एक ही छत के नीचे होंगे। जानकारी के मुताबिक, उज्बेकिस्तान के समरकंद में शंघाई सहयोग संगठन (Shanghai Cooperation Organization) शिखर सम्मेलन के दौरान भारत और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और शाहबाज शरीफ (Shahbaz Sharif) के बीच बैठक होने की संभावना है।

राजनयिक सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ और भारत के पीएम मोदी 28 जुलाई को बैठक में शामिल होंगे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार एससीओ शिखर सम्मेलन 15-16 सितंबर को निर्धारित है, जहां संगठन के नेता क्षेत्रीय चुनौतियों पर चर्चा करने के लिए एक साथ बैठक करेंगे। इस कॉन्फ्रेंस में शाहबाज शरीफ चीन, रूस, ईरान और पीएम मोदी से भी मुलाकात कर सकते हैं।

वही पड़ोसी देश पाकिस्तान का मीडिया भी इस मामले को खूब उठा रहा है। पाकिस्तानी मीडिया का कहना है कि छह साल में यह पहला मौका है जब दोनों देशों के प्रधानमंत्री एक ही छत के नीचे मौजूद रहेंगे। अगर भारत बातचीत के लिए आगे बढ़ता है तो पाकिस्तान भी इसमें दिलचस्पी दिखाएगा। एससीओ के पूर्ण सदस्यों में चीन, पाकिस्तान, रूस, भारत, ताजिकिस्तान, उज्बेकिस्तान, किर्गिस्तान और कजाकिस्तान शामिल हैं।

इस बीच पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो (Foreign Minister Bilawal Bhutto) ने भी इस मुलाकात को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है। बिलावल भुट्टो ने कहा कि पाकिस्तानी और भारतीय नेताओं के बीच द्विपक्षीय बैठक अभी तय नहीं हुई है। भारत-पाकिस्तान के संबंध कई सालों से खराब चल रहे हैं। दोनों देशों ने कई बार बात करने की कोशिश की लेकिन हर बार किसी नतीजे पर नहीं पहुंचा जा सका। बता दें पीओके के पास भारतीय सीमा (Indian Border) पर पाकिस्तान लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है। वही पाकिस्तान हमेशा से कश्मीर को लेकर जहर उगलता रहा है।

और पढ़ें
Next Story