Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केरल में आरटीआई लगाकर एक शख्स ने मांगे पीएम माेदी की नागरिकता के सबूत

देशभर में इन दिनों नागरिकता संशोधन कानून का जमकर विरोध हो रहा है। ऐसे में केरल के एक शख्स ने प्रधानमंत्री मोदी से ही देश के नागरिक होने के सबूत मांगे हैं।

जेएनयू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लाइव होते ही लगे जय श्री राम के नारे
X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

नागरिकता संशोधित कानून को लेकर देशभर में मचे बवाल के बीच एक खबर सामने आई है। एक शख्स ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ही उनकी नागरिकता के सबूत मांगे है। यह मांग केरल के त्रिशूर निवासी जोश कल्लूवेटिल ने राज्य सूचना विभाग से की है। इस व्यक्ति ने विभाग के प्रमुख को एक आवेदन देकर पीएम मोदी के नागरिकता को साबित करने वाले दस्तावेजों की मांग की है। यह आवेदन त्रिशूर के चालक्कुडी नगरपालिका में दिया गया है।

त्रिशूर जिले के रहने वाले जोश कल्लूवेटिल ने 13 जनवरी को केरल के सूचना विभाग में आरटीआई डाली थी। याचिका में कहा गया है कि ऐसे कौन से दस्तावेज हैं जिससे साबित होता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के नागरिक हैं।

केरल नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ कोर्ट जाने वाला पहला राज्य

केरल देश का पहला राज्य है जो नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गया है। हालांकि केरल सरकार की इस याचिका के खिलाफ बीजेपी नेता कुम्मनम राजशेखरन ने सर्वोच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है।

केरल की लेफ्ट सरकार ने पहले ही नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव परित कर दिया है। साथ ही राज्य सरकार इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट भी गई है। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ केरल की राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है।

बीते कुछ समय से नागरिकता संशोधन के खिलाफ विपक्षी पार्टियों ने मोर्चा खोला हुआ है। देशभर में विपक्षी दलों ने केन्द्र सरकार को घेरने के लिए सीएए के खिलाफ प्रदर्शन किए थे।

Next Story