Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Indian Air Force Day: हिंडन एयरबेस पर आसमान में दिखी भारत की ताकत, अभिनंदन ने उड़ाया मिग-21, बालाकोट एयरस्ट्राइक पायलटों ने भी दिखाया दम

Indian Air Force Day/ आज भारतीय वायुसेना अपना 87वां स्थापना दिवस मना रही है। हिंडन एयरबेस पर भारतीय वायु सेना अपना 87वां स्थापना दिवस मना रही है। विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने मिग बाइसन एयरक्राफ्ट उड़ाया।

Indian Air Force Day: हिंडन एयरबेस पर आसमान में दिखी भारत की ताकत, अभिनंदन ने उड़ाया लड़ाकू विमान मिग-21, बालाकोट एयरस्ट्राइक पायलटों ने भी दिखाया दम87th Indian Air Force Day 2019 Parade Live update

Indian Air Force Day 2019/ आज भारतीय वायुसेना अपना 87वां स्थापना दिवस मना रही है। इस मौके पर सभी एयरबेस पर जश्न मनाया जा रहा है। इस खास मौके पर दिल्ली में तीन रक्षा सेवाओं के प्रमुख सेना प्रमुख बिपिन रावत, भारतीय वायु सेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया और नौसेना स्टाफ के प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। हिंडन एयरबेस पर विंग कमांडर अभिनंदन बर्धमान ने मिग बाइसन एयरक्राफ्ट उड़ाया और 3 मिराज 2000 विमान और 2 सु-30 एमकेआई लड़ाकू विमान उन पायलटों द्वारा उड़ाए गए जिन्होंने बालाकोट हवाई हमले में भाग लिया था।

Indian Air Force Day 2019 Parade Live update (लाइव अपडेट)

विंग कमांडर अभिनंदन बर्धमान ने उड़ाया मिग-21, तालियों से गुंजा उठा हिंडन एयरबेस

वायुसेना दिवस के जश्न में शामिल हुए ग्रुप कैप्टन सचिन तेंदुलकर, पहुंचे हिंडन एयरबेस

हिंडन एयर बेस पर विंग कमांडर अभिनंदन ने मिग बाइसन एयरक्राफ्ट उड़ाया तो वहीं बालाकोट हवाई हमले में भाग लेने वाले सभी पायलटों ने भी उड़ान भर शानदार प्रदर्शन दिखाया।

वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने परेड को दी सलामी

हिंडन एयरबेस पर जारी है वायुसेना का उम्दा प्रदर्शन...

गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर वायुसेना का सबसे बड़ा कार्यक्रम शुरू हो गया है। इसमें आर्मी चीफ बिपिन रावत और सचिन तेंदुलकर पहुंचे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विजयदशमी और वायुसेना दिवस की देशवासियों को दी शुभकामनाएं

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी विजयदशमी और वायुसेना दिवस की बधाई

दिल्ली में वॉर मेमोरियल पहुंचे तीनों सेना प्रमुख, शहीदों को दी श्रद्धांजलि

भारतीय वायुसेना दिवस की तैयारियां जोरों पर, दिखेगी भारत की ताकत

राफेल उड़ाएंगे राजनाथ सिंह

वहीं दूसरी तरफ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तीन दिन के दौरे पर फ्रांस पहुंचे चुके हैं। जहां वो आज पेरिस में राफेल की पहली उड़ान भरेंगे। इससे पहले वो शस्त्र पूजा भी करेंगे। उसके बाद दसॉल्ट से हुए करार के तहत 4 राफेल विमान भारत लाए जाएंगे।

भारतीय वायुसेना का संक्षिप्त इतिहास

बता दें कि भारतीय वायु सेना की स्थापना 8 अक्टूबर 1932 को अंग्रेजों के वक्त हुई थी। तब इसका नाम रॉयल एयरफोर्स रखा गया था। लेकिन पहली उड़ान 1 अप्रैल 1933 को भरी गई। जिस वक्त इसकी स्थापना हुई थी तब सिर्फ 6 आरएएफ ट्रेनिंग अधिकारी और 19 सिपाही थे। जिसके बाद सेना का विस्तार होता गया और 1954 में आजादी के 6 साल बाद इसका नाम बदल कर भारतीय वायुसेना रखा गया। भारतीय वायु सेना भारतीय सशस्त्र बलों की हवाई शाखा है। जिसकी गिनती दुनिया की वायु सेनाओं में चौथे नबंर पर होती है। इसका प्राथमिक मिशन भारतीय हवाई क्षेत्र को सुरक्षित करना और सशस्त्र संघर्ष के दौरान हवाई युद्ध में दुश्मनों को मार गिराना है।

Next Story
Top