Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Bulandshahr: जहरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत, थाना प्रभारी समेत 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले में लापरवाही के आरोप में थाना प्रभारी समेत तीन लोगों को निलंबित कर दिया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, डीएम रविंद्र कुमार ने कहा है कि शुरुआती जांच में सामने आया है शराब बाहर से लाई गई थी। शराब की दुकानों पर छापेमारी की जा रही है।

Bulandshahr: जहरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत, दोषियों के खिलाफ होगी रासुका के तहत कार्रवाई
X

फोटो- प्रतीकात्मक

उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब के पीने से पांच लोगों की मौत हो गई है और 16 लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। हालांकि, गंभीर लोगों का अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। आशंका जताई जा रही है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। यह मामला बुलंदशहर में सिकंदराबाद कोतवाली क्षेत्र के गांव जीतगढ़ी का है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले में लापरवाही के आरोप में थाना प्रभारी समेत तीन लोगों को निलंबित कर दिया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, डीएम रविंद्र कुमार ने कहा है कि शुरुआती जांच में सामने आया है शराब बाहर से लाई गई थी। शराब की दुकानों पर छापेमारी की जा रही है।

जहरीली शराब पीकर मरने वाले सभी मजदूर हैं। इन सभी ने गांव के ही अवैध शराब बेचने वाले युवक से शराब खरीदकर पी थी। बताया गया है कि शराब पीने के कुछ देर बाद ही उनकी हालत बिगड़ने ली। जिसके बाद उनके परिजन उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराने पहुंचे। जिसमें चार लोगों की मौत हो गई। बाद में एक व्यक्ति की इलाज के दौरान मौत हो गई।

कुल मिलाकर इस घटना में अबतक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने इसे थाना पुलिस की लापरवाही मानते हुए थाना प्रभारी दिक्षित कुमार त्यागी, हलाक इंचार्ज और चौकी प्रभारी प्रभारी अनोखे पुरी को तत्काल निलंबित कर दिया है।

आरोपियों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई करें

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस घटना पर संज्ञान लिया है। सीएम योगी ने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आदेश दिया है। मिली जानकारी के मुताबिक, सीएम योगी ने दोषियों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई करने का आदेश दिया है। साथ ही पीड़ितों को बेहतर इलाज दिलाने का निर्देश दिया है।

Next Story