Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विपक्षी दलों के साथ सोनिया गांधी की बैठक खत्म, बोलीं- सरकार के पास नहीं है कोई लॉक डाउन पर प्लान

कोरोना संकट और चक्रवाती तूफान तूफान को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 22 विपक्षी दलों के साथ आज शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की है।

विपक्षी दलों के साथ सोनिया गांधी की बैठक खत्म, बोलीं- सरकार के पास नहीं है कोई लॉक डाउन पर प्लान

कोरोना संकट और चक्रवाती तूफान तूफान को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 22 विपक्षी दलों के साथ आज शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की है। इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत कई विपक्षी दलों के प्रमुख ने भाग लिया । इसमें उद्धव ठाकरे और ममता बनर्जी के अलावा कई अन्य दलों के नेता भी शामिल थे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बैठक में पश्चिम बंगाल और उड़ीसा के चक्रवर्ती तूफान का मुद्दा उठाया। तो वहीं दूसरी तरफ विपक्ष ने कहा कि सरकार के पास लॉक डाउन को लेकर कोई रणनीति नहीं है।

विपक्ष ने दावा किया है कि इस वक्त सारी शक्तियां प्रधानमंत्री कार्यालय तक ही सीमित है। बैठक में विपक्ष ने कहा कि इस सरकार में संघवाद की भावना को भुला दिया है और विपक्ष की मांगों को अनसुना किया जा रहा है। बैठक के दौरान विपक्ष ने चक्रवाती तूफान को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग की। तो वहीं दूसरी तरफ विपक्ष ने कहा कि सरकार के पास लॉक डाउन को लेकर अभी तक कोई प्लान नहीं है। सिर्फ वह लॉक डाउन को बढ़ाते ही जा रहे हैं और उसके साथ ढील दे रहे हैं। लेकिन वह स्वास्थ्य को लेकर अभी तक कोई घोषणा नहीं की गई है।

वहीं दूसरी तरफ विपक्ष ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी की तरफ से 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज की घोषणा की। वित्त मंत्री ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के द्वारा 5 किस्तों में पूरा आर्थिक पैकेज घोषित किया गया। लेकिन हमें लगता है कि यह सिर्फ एक क्रूर मजाक बनकर रह गया।

जानकारी के लिए बता दें कि विपक्ष की इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई बैठक में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी शामिल हुई। मीटिंग के दौरान ममता बनर्जी ने अपनी बात कही और वह इस मीटिंग से चली गई। जानकार बता रहे हैं कि उन्हें किसी अन्य मीटिंग में भी शामिल होना था।

सोनिया गांधी के नेतृत्व में हो रही बैठक में 22 विपक्षी दलों के नेता शामिल हुए हैं।।इसमें आरजेडी, भाकपा नेशनल कॉन्फ्रेंस, जीता राम मांझी, शिवसेना और ममता की पार्टी तृलमोल कोंग्रेस भी शामिल हुई।.

Next Story
Top