Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सामूहिक दुष्कर्म: किशोरी की अस्मत से 3 दिन तक खेलते रहे 9 लोग, 7 आरोपी गिरफ्तार

उमरिया गांव में 13 साल की मासूम के साथ 9 लोगों ने 3 दिनों तक गैंगरेप किया। किशोरी ने बताया कि उसके साथ पहले दो लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया फिर बारी-बारी से दूसरे भी उसे शिकार बनाते चले गये।

सामूहिक दुष्कर्म: किशोरी की अस्मत से 3 दिन तक खेलते रहे 9 लोग, 7 आरोपी गिरफ्तार
X

किशोरी की अस्मत से 3 दिन तक खेलते रहे 9 लोग

मध्य प्रदेश के एक गांव में सामूहिक दुष्कर्म की दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। एमपी के उमरिया गांव में 13 साल की बच्ची के साथ कुछ दरिंदो ने कुछ दिनों तक गैंगरेप किया। इस मामले में पुलिस ने अभी तक सात लोगों को गिरफ्तार किया है। अन्य आरोपियों की तलाश जारी है। जानकारी के मुताबिक, उमरिया गांव में 13 साल की मासूम के साथ 9 लोगों ने 3 दिनों तक गैंगरेप किया। किशोरी ने बताया कि उसके साथ पहले दो लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया फिर बारी-बारी से दूसरे भी उसे शिकार बनाते चले गये।

किशोरी ने जिससे भी मदद की गुहार लगाई उसी ने फायदा उठाया। फिर हिम्मत जुटाकर अपने परिजनों के साथ थाने जाकर मामला दर्ज करवाया। मामला सुन पुलिस वाले भी दंग रह गये। अभी तक एमपी पुलिस ने 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। अन्य आरोपियों की तलाश में पुलिस दबिशें दे रही है। जल्द ही आरोपी गिरफ्त में होंगे। इन सातों आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कारावास में भेज दिया गया है।

पुलिस के बताया कि उमरिया गांव के रहने वाली बच्ची के पिता जबलपुर में सरकारी नौकरी करते हैं। वह पिता के साथ ही रहकर वहां पढ़ाई करती है। 9वीं की यह छात्रा लॉकडाउन में मां के पास उमरिया आई थी। 11 जनवरी की दोपहर बच्ची किशोरी नगर सब्जी मंडी गई थी। इस दौरान यहां उसे दो आरोपी राहुल कुशवाहा और आकाश सिंह मिले। दोनों उसे एक दुकान में ले गए और बहला-फुसलाकर मोबाइल नंबर लिया और इसके बाद घुमाने के बहाने बाइक पर साथ ले गए। दोनों आरोपी ने पहले बच्ची को डरा-धमकाकर उसके साथ रैप किया। इसके बाद उसे एनएच 43 किनारे पर मौजूद ढाबे पर ले गए।

रात में उसे वहीं बंधक बनाकर रखा। यहां आरोपी आकाश व राहुल के अलावा ढाबा संचालक पारस सोनी व साथियों मानू केवट, ओंकार राय, ईतेंद्र सिंह व रजनीश चौधरी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद दोनों आरोपी उसे छटन बस्ती के जंगल में भी ले गए, जहां उसके साथ बलात्कार किया गया। जिसके बाद आरोपियों ने उसे छोड़ दिया और ट्रक में बैठा दिया लेकिन उस ट्रक ड्राइवर ने भी बच्ची के साथ दरिंदगी को अंजाम दिया। फिर किसी तरह वह अपने गांव पहुंचकर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई जिस पर कार्रवाई चल रही है।

Next Story