Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोटा और बूंदी के बाद अब जोधपुर से आई चौंकाने वाली रिपोर्ट, 100 से अधिक नवजातों की मौत

एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है कि दिसंबर महीने में जोधपुर के दो अस्पतालों में 100 से अधिक नवजात शिशुओं की मौत हो गई।

कोटा और बूंदी के बाद अब जोधपुर से आई चौंकाने वाली रिपोर्ट, 100 से अधिक नवजातों की मौत
X

राजस्थान में बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। कोटा और बूंदी के बाद अब जोधपुर में भी बच्चों की मौत की एक रिपोर्ट सामने आई है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है कि पिछले साल दिसंबर में जोधपुर के दो अस्पतालों में 100 से अधिक नवजात शिशुओं की मौत हो गई।

रिपोर्ट में कहा गया है कि दिसंबर में उमैद और एमडीएम अस्पतालों में 146 बच्चों की मौत हुई थी, जिनमें से 102 नवजात बच्चे थे। जोधपुर के उम्मेद अस्पताल और एमडीएम अस्पताल में शिशुओं की मौतों की एक संयुक्त रिपोर्ट में कहा गया है कि दिसंबर में नियो नेटल केयर एंड पीडियाट्रिक आईसीयू में कुल 146 मौतें (बच्चों की) दर्ज की गईं।

आकंड़ों के मुताबिक, दिसंबर में दोनों अस्पतालों में कुल 4,689 बच्चों को भर्ती कराया गया था। इनमें से 3 हजार शिशु थे। इलाज के दौरान 102 शिशुओं सहित 146 बच्चों की मौत हो गई।

राजस्थान के कोटा के अस्पताल में नवजात शिशुओं की मौत को लेकर जारी घमासान के बीच ये रिपोर्ट अशोक गहलोत की सरकार के लिए संकट खड़ा सकती है। जोधपुर में नवजात शिशुओं की मौत का आंकड़ा हैरान करने वाला है।

वहीं कोटा में अब तक मरने वाले बच्चों की संख्या 137 पहुंच गई है। वहीं कोटा अस्पताल के लिए केंद्र सरकार की तरफ से एक टीम भेजी गई। फिलहाल, राज्य में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है।

Next Story