Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

EIU विशेषज्ञ ने किया दावा, 2020 तक चीन जैसा मजबूत होगा भारत

2020 तक वैश्विक वृद्धि का एक प्रमुख केंद्र बनने जा रहा है भारत- सिमोन बापटिस्ट

EIU विशेषज्ञ ने किया दावा, 2020 तक चीन जैसा मजबूत होगा भारत
नई दिल्ली. भारत 2020 के दशक में वैश्विक आर्थिक वृद्धि के लिहाज से चीन जैसा ही एक मजबूत केंद्र बन सकता है लेकिन इसके लिए देश में बुनियादी ढांचे की कमी तथा महिला-पुरुष में भेद समेत कई चुनौतियों का समाधान करना होगा। इकोनामिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (ईआईयू) ने यह बात कही है।
ईआईयू के मुख्य अर्थशास्त्री सिमोन बापटिस्ट ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत एकमात्र देश है जिसमें 2020 के दशक में दुनिया को उसी प्रकार से बदलने की संभावित क्षमता है जैसा कि चीन ने 2000 के दशक में किया था। भारत के वास्तव में उड़ान भरने (टेक ऑफ) से पहले संभवत थोड़ा वक्त लगेगा लेकिन इतना तय है कि भारत 2020 के दशक में वैश्विक वृद्धि का एक प्रमुख केंद्र बनने जा रहा है। अपने न्यूजलेटर में उन्होंने आगे कहा कि इसके पीछे एक मुख्य तत्व भारत के औद्योगिक आधार का विस्तार भी हो सकता है।
बापटिस्ट ने कहा कि वास्तव में इसके पीछे सरकार का महत्वकांक्षी मेक इन इंडिया अभियान है। इसके तहत देश को विनिर्माण केंद्र में बदलना है। उन्होंने यह भी कहा, चीन की तरह विनिर्माण क्षेत्र में उड़ान भरने की पूर्व शर्त अभी भारत में मौजूद नहीं है। ईआईयू की एबीबी के लिए तैयार भारत की वृद्धि की संभावनाओं का द्वार खोलने के लिये क्या आवश्यक है, शीषर्क से विशेष रिपोर्ट के शुरू में बापटिस्ट ने अपनी यह टिप्पणी की है।
एबीबी बिजली तथा स्वचालित प्रौद्योगिकी के क्षेत्र की एक प्रमुख कंपनी है। उन्होंने कहा कि चीन में 2001 में जब विनिर्माण क्षेत्र वैश्वीकृत हो रहा था जो कौशल तथा शिक्षा का स्तर था, भारत उसमें काफी पीछे है। महिला-पुरुष के बीच अंतर काफी ज्यादा है, हालांकि शिक्षा के क्षेत्र में लड़कियां आगे आ रही हैं लेकिन रोजगार के मामले में अंतर अभी भी अधिक है।
नीचे की स्लाइड्स में पढें, पूरी खबर-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे फेसबुक पेज फेसबुक हरिभूमि को, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर -
Next Story
Top