Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ये हैं भारत के 10 सबसे प्रदूषित शहर

विश्व स्वास्थय संगठन की रिपोर्ट में ग्वालियर और इलाहबाद प्रदूषित शहरों की लिस्ट में दूसरे और तीसरे नंबर पर है।

ये हैं भारत के 10 सबसे प्रदूषित शहर
X

भारत में प्रदूषण की स्थिति पर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि दुनिया के सबसे प्रदूषित 20 शहरों में से 10 भारत में हैं जिससे अगले दस वर्षों में देश में दमा की बीमारी में 20 प्रतिशत का इजाफा हो सकता है।

डब्ल्यूएचओ की इस रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा गया कि बढ़ते शहरी कारण और अनियंत्रित औद्योगिक गतिविधियों की वजह से देश के कई शहरों में वायुप्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है।

रिपोर्ट के अनुसार ग्वालियर, इलाहबाद ,पटना, रायपुर और दिल्ली शीर्ष पांच प्रदूषित शहरों में से हैं। दक्षिण भारत की तुलना में उत्तर भारत के शहरों में प्रदूषण का स्तर दो से तीन गुना ज्यादा है।

सेमिनार में जलवायु परिवर्तन के मानव स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभावों पर एक अध्ययन रिपोर्ट जारी की गई। इसमें कहा गया है कि जलवायु परिवर्तन के कारण भारत में साल 2030 तक तापमान में 1.7 से दो प्रतिशत की वृद्धि होने की आशंका है।

ताममान में बढ़ोतरी स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बनेगी। दमा के मामलों में 20 प्रतिशत का इजाफा होने की संभावना है।

'फास्टफूड पैक ने किया स्वच्छता अभियान का कचड़ा

देशभर में चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान पखवाड़े के समापन पर कृषि मंत्रालय में उपभोक्ता मामलों के सचिव जेपी मीणा ने फास्ट फूड पैकेट के जरिए फैलते कूड़ा कचरे को अपनी चिंता का विषय बताया।

फास्ट फूड पैकेटों से फैलने वाली गंदगी से कैसे निपटा जाए। इसके लिए सरकार ने जनता को अपनी अहम भूमिका निभाने के लिए नसीहत भी दी है। मीणा ने कहा कि खासकर शहरी क्षेत्रों में साफ सफाई रखना केवल सफाई कर्मियों का ही काम नहीं है।

बल्कि इसके लिए देश के अरबों उपभोक्ताओं को भी अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए। देश में अकेले सरकारी योजनाओं से स्वच्छता लागू नहीं हो सकती, इसमें आम जनता की भागीदारी और योगदान करने की भी जरूरत है।

मानक ब्यूरो का योगदान

उपभोक्ता मामलों के सचिव ने कहा कि भारतीय मानक ब्यूरो और नेशनल टेस्ट हाउस जैसे विभाग के अंतर्गत आने वाले विभिन्न अधीनस्थ एवं स्वायत्त कार्यालयों ने भी स्वच्छता के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए विभिन्न गतिविधियां आयोजित की गई।

इन गतिविधियों के दौरान अपने आसपास के वातावरण को स्वच्छ रखने और दैनिक जीवनचर्या में स्वच्छता के महत्व पर बल दिया गया। भारतीय मानक ब्यूरो ने देशभर में अपने शाखा कार्यालयों के जरिए सामान्य साफ-सफाई के अलावा कई अभिनव गतिविधियों का आयोजन किया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story