Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दूसरों के लिए सैटेलाइट लॉन्च करेगा भारत

इस सैटेलाइट से भारत के पड़ोसी देशों को एक-दूसरे के साथ कम्युनिकेशन फैसिलिटी मिलेगी।

दूसरों के लिए सैटेलाइट लॉन्च करेगा भारत
X

भारत अपने 6 पड़ोसी देशों के लिए 450 करोड़ रुपए के एक सैटेलाइट को लॉन्च करने की तैयारी कर रहा है। 5 मई को ISRO 2230 किलो के साउथ एशिया सैटेलाइट (जीएसएटी-9) की लॉन्चिंग करेगा।

ये भी पढ़ें- पीएम मोदी के खिलाफ महागठबंधन पर मंथन शुरू

इस सैटेलाइट से भारत के पड़ोसी देशों को एक-दूसरे के साथ कम्युनिकेशन फैसिलिटी मिलेगी। साथ ही स्पेस में अपना एक अलग मुकाम बना चुका भारत साउथ एशिया सैटेलाइट के जरिए अपने पड़ोसियों को गिफ्ट में देगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले मुताबिक भारत अपने पड़ोसियों के लिए अपना दिल खोल रहा है।

इस योजना में किसी अन्य देश का कोई भी खर्च नहीं होगा। अफगानिस्तान नेपाल भूटान मालदीव, बांग्लादेश और श्रीलंका ने मिशन का हिस्सा बनने की मंजूरी दे दी है। पाकिस्तान को इससे बाहर रखा गया है।
इस सैटेलाइट का स्पेस में फिलहाल कोई सानी नहीं है। स्पेस में सैटेलाइट भेजने वाली जितनी रीजनल एजेंसियां हैं उनका मकसद फायदा कमाना है। दरअसल इस योजना को नरेंद्र मोदी के एम्बीशस प्लान के तौर पर देखा जा रहा है।
इससे इसरो 12 साल की लाइफ वाले सैटेलाइट बनाएगा और इसमें हिस्सा लेने वाले देशों को 1500 मिलियन डॉलर देने होंगे।
क्या है नॉटी ब्वॉय
5 मई को श्रीहरिकोटा आइलैंड से इसरो का नॉटी ब्वॉय अपने 11वीं मिशन पर निकलेगा। इसे जीएसएलवी को लॉन्च किया जाएगा। 412 टन वजनी और करीब 50 मीटर लंबा यह रॉकेट अपने साथ 'साउथ एशिया सैटेलाइट' लेकर जाएगा।
इसरो इसे जीएसएटी-9 कहना पसंद कर रहा है। 235 करोड़ की लागत से 3 साल में 2230 किलो का यह सैटेलाइट बनकर तैयार हुआ। ये स्पेस बेस्ड टेक्नोलॉजी के बेहतर इस्तेमाल में मदद करेगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story