logo
Breaking

इस मिसाइल के साथ भारत बना दुनिया का चौथा देश, जानें इंटरसेप्टर मिसाइल की खासियत

इंटरसेप्टर मिसाइल के टेस्ट के साथ ही मिसाइल से मिसाइल को नष्ट करने वाला भारत दुनिया का चौथा देश बन गया है।

इस मिसाइल के साथ भारत बना दुनिया का चौथा देश, जानें इंटरसेप्टर मिसाइल की खासियत

भारत को मिसाइल के क्षेत्र में एक बड़ी कामयाबी मिली है। एडवांस्ड एयर डिफेंस ने सुपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल का ओडिशा में सफल परीक्षण किया है। इस मिलाइस से दूसरे देश से भेजी गई कोई भी मिलाइस हवा में ही मार गिराई जा सकती है।

जानकारी के लिए बता दें कि इस साल ये तीसरा बड़ा परीक्षण था। बलिस्टिक मिसाइल को धरती के वातावरण के 30 किलोमीटर की ऊंचाई के दायरे में सफलतापूर्वक निशाना बनाकर उसे खत्म कर सकती है।

वहीं इंटरसेप्टर मिसाइल के टेस्ट के साथ ही मिसाइल से मिसाइल को नष्ट करने वाला भारत दुनिया का चौथा देश बन गया है। इस अत्याधुनिक मिसाइल का अपना खुद का मोबाइल लांचर है।

यह दुश्मन मिसाइल को निशाना बनाने के लिए सुरक्षित डेटा लिंक, आधुनिक राडार और अन्य तकनीकी एवं प्रौद्योगिकी विशिष्टताओं से युक्त है।

ये है इस मिलाइल की खासियत

1. इंटरसेप्टर मिसाइल पृथ्वी के वातावरण से बाहर 2000 किलोमीटर की दूरी तक दुश्मन के मिसाइल को खत्म करने की क्षमता रखता है।

2. इस इंटरसेप्टर मिसाइल टेक्नोलॉजी को डेवलप करने में सफलता पाने वाला भारत विश्व का चौथा देश है।

3. यूएस, रूस, इजरायल और चीन के पास यह टेक्नोलॉजी पहले से है।

4. बलिस्टिक मिसाइल को धरती के वातावरण के 30 किलोमीटर की ऊंचाई के दायरे में टारगेट बना सकती है।

Loading...
Share it
Top