Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आसियान देशों की चाहत, भारत-प्रशांत क्षेत्र में ज्यादा बड़ी भूमिका निभाए भारत

आसियान देशों ने क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता सुनिश्चित करने में भारत के बढ़ते कद को भी माना।

आसियान देशों की चाहत, भारत-प्रशांत क्षेत्र में ज्यादा बड़ी भूमिका निभाए भारत

आसियान देशों के सभी नेता चाहते हैं कि भारत भारत-प्रशांत क्षेत्र में ज्यादा मुखर भूमिका निभाए। दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों के संगठन (आसियान) से सभी 10 देशों ने भारत को अपनी इस इच्छा से अवगत कराया है।

इस मामले में विदेश मंत्रालय की सचिव प्रीति सरन से संवाददाता सम्मेलन में जब पूछा गया कि क्या आसियान देशों के नेताओं ने भारत-प्रशांत क्षेत्र में भारत के लिए ज्यादा मुखर भूमिका की वकालत की तो इस पर उन्होंने कहा, ‘‘हां'।

आपको बता दें की भारत-प्रशांत क्षेत्र में चीन अपनी सैन्य मौजूदगी बढ़ा रहा है। आसियान देशों ने क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता सुनिश्चित करने में भारत के बढ़ते कद को भी माना।

इसे भी पढ़ें- दावोस में भी भारतीयों ने मनाया गणतंत्र दिवस, 'इन्वेस्ट इंडिया' ने किया आयोजन

दक्षिण एशियाई क्षेत्र में चीन के विस्तार के मद्देनजर आसियान देशों के नेता चाहते हैं कि भारत-प्रशांत क्षेत्र और अधिक सक्रिय भूमिका निभाए

भारत-प्रशांत क्षेत्र में भारत की ओर से बड़ी भूमिका निभाने की आसियान देशों की इच्छा अहमियत रखती है, क्योंकि दक्षिण चीन सागर विवाद के मुद्दे पर चीन और आसियान के कई सदस्य देशों के बीच तनाव बढ़ रहे हैं।

सरन ने कहा कि सभी नेताओं ने (भारत-प्रशांत क्षेत्र में) भारत की बड़ी भागीदारी की अपनी इच्छा से अवगत कराया है।

ये है आसियान देश

थाइलैंड, वियतनाम, इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपीन, सिंगापुर, म्यांमा, कंबोडिया, लाओस और ब्रूनेई आसियान के 10 सदस्य देश हैं।

Loading...
Share it
Top