Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

विदेशों में कालाधन भेजने के मामले में भारत चौथे नंबर पर, अमेरिकी रिपोर्ट से हुआ खुलासा

इस रिपोर्ट में 2013 तक के आंकड़े उपलब्ध हैं।

विदेशों में कालाधन भेजने के मामले में भारत चौथे नंबर पर, अमेरिकी रिपोर्ट से हुआ खुलासा
वाशिंगटन. अमेरिका की अनुसंधान एवं सलाहकार संस्थान "ग्लोबल फाइनेंशियल इंटेग्रिटी" (जीएफआई) ने रविवार को एक जारी की है जिसमें खुलासा हुआ है कि भारत कालाधन विदेश में जमा करने के मामले में विश्वं में चौथे स्थान पर है और 2004 से 2013 के बीच देश से हर साल करीब 51 अरब डालर का कालाधन बाहर ले जाया गया। आपको ये जानकार हैरानी होगी कि भारत का रक्षा बजट 50 अरब डॉलर से कम है। वहीं चीन इस मामले में पहला पायदान पर है। रिपोर्ट के मुताबिक काला धन विदेश भेजने के मामले में चीन सालाना 139 अरब डालर के साथ इस सूची में शीर्ष पर है। जिसके बाद रूस (104 अरब डालर सालाना) और मेक्सिको (52.8 अरब डालर सालाना) का स्थान है।
हिंदुस्तान टाइम्सकी खबर के मुताबिक, रिपोर्ट में कहा गया कि 2013 के दौरान विकासशील और उभरती अर्थव्यवस्थाओं में गैरकानूनी धन, कर चोरी, अपराध, भ्रष्टाचार और अन्य गैरकानूनी गतिविधियों से पैदा रिकार्ड 1,100 अरब डालर कालाधन विदेश में जमा किया गया। रिपोर्ट में 2013 तक के आंकड़े उपलब्ध हैं।
जीएफआई के अनुमान के मुताबिक कुल मिलाकर 2004 से 2013 के दौरान भारत से 510 अरब डालर की राशि भारत से बाहर गई जबकि चीन से 1,390 अरब डालर और रूस से 1,000 अरब डालर का कालाधन विदेश गया। जीएफआई की विकासशील देशों से गैरकानूनी वित्तीय प्रवाह: 2004-2013 नाम की इस रिपोर्ट से स्पष्ट है कि पहली बार 2011 में गैरकानूनी वित्तीय प्रवाह 1,000 अरब डालर को पार कर गया और 2013 में यह 1,100 अरब डालर पहुंच गया। सन 2004 के मुकाबले यह उल्लेखनीय बढ़ोतरी है जबकि 465.3 अरब डालर की राशि विदेश भेजी गई थी।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारियां -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top