Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इंडोनेशिया में पीएम मोदी ने कहा- हमारी सरकार में बदल रहा है भारत, विदेशी निवेश बढ़ा

मोदी ने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि एक वह दौर था, जब आपके पूर्वजों को अलग-अलग परिस्थितियों की वजह से भारत छोड़ना पड़ा था।

इंडोनेशिया में पीएम मोदी ने कहा- हमारी सरकार में बदल रहा है भारत, विदेशी निवेश बढ़ा

इंडोनेशिया यात्रा पर पहुंचे पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय को संबोधित किया। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने दोनों देशों की साझी सांस्कृतिक विरासत का जिक्र करने के साथ-साथ अपनी सरकार की उपलब्धियां भी गिनवाईं। मोदी ने कहा कि 4 साल में भारत का सम्मान बढ़ा है।

पीएम मोदी ने कहा कि देश में वही कानून, दफ्तर, अफसर हैं, लेकिन सरकार बदली है और अब देश बदल रहा है। पीएम ने पिछली सरकारों पर तंज कसते हुए कहा कि वे गर्व से कहते थे कि हमने कानून बनाए और हमे गर्व है कि हम कानून खत्म कर रहे हैं।

पीएम ने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि 1962 में जकार्ता एशियन गेम्स में गुरुनाम सिंह ने इंडोनेशिया के लिए मेडल जीता था।

मोदी ने कहा कि एक दौर वह था, जब आपके पूर्वजों को अलग-अलग परिस्थितियों की वजह से भारत छोड़ना पड़ा था। मोदी ने कहा कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, वहीं इंडोनेशिया में भी लोकतंत्र की जड़ें बहुत गहरी हैं।

इसे भी पढ़ें- रूस: पत्रकार अरकाडी बाबचेंको के मर्डर की खबर निकली झूठी, प्रेस कॉन्फ्रेंस में आए नजर

रिकॉर्ड स्तर पर हो रहा विदेशी निवेश

पीएम मोदी ने कहा कि पिछले चार साल में भारत ने दुनिया को आगे बढ़ाने में सक्रिय भूमिका अदा की। दुनिया की सबसे ओपन इकॉनमी में से एक भारत में रिकॉर्ड स्तर पर विदेशी निवेश हो रहा है।

ईज ऑफ डुइंग बिजनेस में भारत 142वीं रैंक से 100 नंबर पर आ चुका है। भारत की रेटिंग में सुधार हुआ है, और यह सुधार मोदी ने नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय एजेंसी मूडीज ने किया है।

इंडोनेशिया और भारत में सामाजिक विविधता

पीएम ने कहा,मुझ जैसे आम आदमी को प्रधानसेवक बनाया, वैसे ही इंडोनेशिया ने भी अपना राष्ट्रपति चुना। दोनों देश सामाजिक विविधता और सांस्कृति का प्रतीक हैं।

मोदी ने कहा, मैं तीन-चार दिन पहले ओडिशा के कटक में था, वहां के मैदान का नाम था बालिजात्रा, सैकड़ों साल पहले ओडिशा के महान नाविक जावा, सुमात्रा तक आते थे। आज भी हर साल ओडिशा में बालीजात्रा का उत्सव मनाया जाता है।

इसे भी पढ़ें- सऊदी अरब: रियाद के होटल में मिली AIR इंडिया के पायलट की लाश

भारत इंडोनेशिया का निकट पड़ोसी

इंडोनेशिया का गुजरात से बहुत पुराना नाता रहा है। मोदी ने बताया, जब मैं गुजरात का सीएम था तो किसी ने कहा कि कच्छ में रहने वाले मुसलमान वहां से निकले और इंडोनेशिया पहुंचे।

उनसे गुजराती खान-पान भी यहां पहुंच गया। भारत और इंडोनेशिया के बीच सिर्फ 90 नॉटिकल मील की दूरी है। यानी इंडोनेशिया का सबसे निकट का पड़ोसी कोई है तो वह हिंदुस्तान है।

इंडोनेशिया सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार

मोदी ने कहा, आज इंडोनेशिया आसियान देशों में भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है। यह व्यापार अब 18 अरब डॉलर से अधिक हो चुका है।

इस संबंध के मजबूत होने का एक और आधार हमारे लोग हैं, आप सब लोग हैं। हमारे यहां बड़ी आबादी 35 साल से कम है। हमारी सरकार के काम की स्पीड और स्केल काफी तेज है।

106 देशों को दी ई वीजा सुविधा

मोदी ने कहा कि इंडोनेशिया समेत 106 देशों में हमने ई वीजा की सुविधा दे दी है। 1400 कानूनों का खत्म करने का काम किया। पीएम ने अपने भाषण में जीएसटी का भी जिक्र किया।

पीएम ने कहा कि अब हम ईज ऑफ लिविंग पर काम कर रहे हैं, एक ऐसे सिस्टम का निर्माण कर रहे हैं जो न सिर्फ पारदर्शी हो, बल्कि सेंसटिव भी हो।

एक लाख से ज्यादा ग्राम पंचायतों में डाले ऑप्टिकल फाइबर

अपनी सरकार की उप्लब्धियों का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा, हमारी सरकार में रेलवे लाइनों को ब्रॉड गेज करने का काम दोगुना हुआ है, बिजली देने का काम दोगुनी रफ्तार से हो रहा है।

पहले की सरकार में 4 साल में 59 ग्राम पंचायत के मुकाबले हमने 4 साल में एक लाख से ज्यादा ग्राम पंचायतों में ऑप्टिकल फाइबर केबल डाले हैं।

मोदी ने बताया कि पहले सिर्फ 28 सरकारी योजनाओं के मुकाबले अब 400 से ज्यादा योजनाओं के पैसे सीधे लोगों के खातों में जमा हो रहे हैं। 9000 से ज्यादा स्टार्टअप भारत में रजिस्टर किए गए हैं।

Next Story
Top