Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारत का वैश्विक अर्थव्यवस्था में आकर्षक स्थान बना रहेगा: विश्व बैंक

उभरते और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं के मामले में दक्षिण एशिया लगातार चमकता आकर्षक स्थान बना रहेगा।

भारत का वैश्विक अर्थव्यवस्था में आकर्षक स्थान बना रहेगा: विश्व बैंक

वाशिंगटन. भारत विश्व अर्थव्यवस्था में चमकता आकर्षक स्थान बना रहेगा और 2016-17 के दौरान उसकी आर्थिक वृद्धि दर 7.8 प्रतिशत रहने का अनुमान है। यह वृद्धि दर चीन की वृद्धि के मुकाबले करीब एक प्रतिशत अधिक होगी। विश्व बैंक ने यह बात कही है।

ये भी पढ़ें : विदेशों में जमा काली कमाई से सरकार को टैक्स में मिले 2428 करोड़

विश्व बैंक ने अपनी ताजा वैश्विक आर्थिक संभावना रिपोर्ट में कहा है -विश्व बैंक ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर को वर्ष 2015 के लिये मामूली 0.2 प्रतिशत और 2016 तथा 2017 दोनों के लिये 0.1 प्रतिशत कम किया है। विश्व बैंक की यह रिपोर्ट हर छह माह में जारी की जाती है। रिपोर्ट में कहा गया है, हालांकि, भारत वैश्विक अर्थव्यवस्था का चमकता आकर्षक स्थान बना रहेगा क्योंकि चीन की अर्थव्यवस्था में और गिरावट की आशंका है।
दक्षिण एशिया बना रहेगा आकर्षक
उभरते और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं के मामले में दक्षिण एशिया लगातार चमकता आकर्षक स्थान बना रहेगा। वर्ष 2016 में इसकी वृद्धि दर 7.3 प्रतिशत और कुछ ही दिन पहले समाप्त 2015 में सात प्रतिशत रहेगी। इसमें कहा गया है कि इस क्षेत्र का चीन के साथ व्यापारिक लेनदेन दूसरे क्षेत्रों के मुकाबले कम है और यह कच्चे तेल का विशुद्ध आयातक है इसलिये उसे वैश्विक बाजार में ऊर्जा के घटे दाम का लाभ मिलेगा। पाकिस्तान (घटक लागत आधार पर) 4.5 प्रतिशत वृद्धि हासिल करेगा।
7.8 फीसदी वृद्धि की उम्मीद
भारत समूचे एशिया क्षेत्र की प्रभावशाली अर्थव्यवस्था है और इसके इस साल में 7.8 प्रतिशत वृद्धि हासिल करने की उम्मीद है। अगले दो साल के दौरान इसके 7.9 प्रतिशत वृद्धि हासिल करने की उम्मीद है। विश्व बैंक का अनुमान है कि 2015 में चीन की अर्थव्यवस्था में 6.9 प्रतिशत की अनुमानित वृद्धि रहने की उम्मीद है।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Share it
Top