Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षकों पर बढ़ते आईईडी हमलों पर भारत ने गंभीर चिंता जताई

भारत ने संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षकों के खिलाफ बढ़ते आईईडी हमलों पर चिंता जताई है।

संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षकों पर बढ़ते आईईडी हमलों पर भारत ने गंभीर चिंता जताई

भारत ने संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षकों के खिलाफ बढ़ते आईईडी हमलों पर चिंता जताई है और ऐसे खतरों का मुकाबला करने के लिए मिशन की मदद करने के वास्ते सुरक्षा का बुनियादी ढांचा और संसाधनों को उन्नत करने के लिए ठोस प्रयास करने की मांग की है।

ये भी पढ़ें- आतंकी हमले में जीवित बचे पुलिसकर्मी की बेटी को सरकारी नौकरी मिली

संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षा अभियानों में सुधार लाने के वास्ते सामूहिक कार्रवाई पर सुरक्षा परिषद में आयोजित एक खुली बहस में संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी उप प्रतिनिधि तन्मय लाल ने कहा कि बीते चार बरस में हिंसा की वजह से176 शांति रक्षक हताहत हुए जिनमें से43 आईईडी विस्फोट के कारण हताहत हुए हैं।

शांति रक्षा मिशनों पर हमलों की वजह सेप्राण गंवाने वाले संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षकों की बढ़ती संख्या पर‘ बहुत गंभीर चिंता जताते हुए' लाल ने कल कहा कि मिशन आईईडी खतरों का सामना कर रहा है और इस खतरे से निपटने के लिए समर्पित संसाधन होने चाहिए।

उन्होंने शिविरों की सुरक्षा के बुनियादी ढांचे के उन्नयन के लिए ठोस कोशिश करने पर जोर दिया। साथ ही, वक्त पर चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराने की क्षमता को भी बढ़ाने पर जोर दिया। लाल ने कहा कि रात में उड़ान भरने की क्षमता वाले हेलीकॉप्टरों का इस्तेमाल होना चाहिए।

ये भी पढ़ें- इंडिगो के विमान के टायर फटने के कारण हवाई अड्डे पर पैदा हुई भ्रम की स्थिति

संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षा अभियानों में भारतीय सेना के सबसे ज्यादा सैनिक हैं। भारत ने 71 शांति रक्षा मिशनों में से करीब50 में200,000 सैनिक मुहैया कराये हैं। उन्होंने कहा कि कर्तव्य पालन के दौरान 168 भारतीय कर्मियों ने अपनी जान की कुर्बानी दी है।
Next Story
Top