Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारत-चीन बॉर्डर पर तैनात महिला कमांडो

बल को मिलेगी आधुनिक गाड़ियां।

भारत-चीन बॉर्डर पर तैनात महिला कमांडो
नई दिल्ली. भारत-चीन सीमा पर स्थित 15 चौकियों पर पहली बार आईटीबीपी की महिला कमांडो तैनात की गई है। जिनकी दुश्मनों पर 24 घंटे पैनी नजरें रहेगी। ये महिला कमांडों हर किसी मुसीबत का सामना करने में सक्षम है।
बल ने भी इनकी सुविधाओं के लिए वहां पर इंतजाम किए हैं। बल के महानिदेशक कृष्ण चौधरी ने 55वें स्थापना दिवस पर कहा कि भारत-चीन बॉर्डर सभी बॉर्डरों से काफी अलग है। यह बॉर्डर जब से बने हैं। तभी से वहां पर जमीन को लेकर विवाद रहा है। जिसको लेकर समय समय पर एक दूसरे से बातचीत होती रहती है। परेशानी है लेकिन उसका समाधान निकालने की कोशिश रहती है।
कृष्ण चौधरी ने बल के स्थापना दिवस पर परेड की सलामी ली और भव्य परेड का निरीक्षण किया। उन्होंने विभिन्न पदाधिकारियों को डीजी प्रतीक चिन्ह व प्रशंसा पत्र से नवाजा गया। उन्होंने बल के श्वान सोफिया व अश्व थनडरस्टोर्म को भी के 9 व एटी मेडल से नवाजा। उन्होंने बल के जवानों की तैनाती के बारे में कहा कि बल के जवान जहां भी तैनात है अपना काम बखूबी निभा रहे हैं। गत जनवरी में भारतीय वाणिज्य दूतावास मजार ए शरीफ तथा मार्च में जलालाबाद में हुए फिदायीन हमले को नाकाम बनाने में आपरेशन कार्यकुशलता का परिचय दिया और इन हमलों को नाकाम भी किया।
बल को मिलेगी आधुनिक गाड़ियां
कृष्ण चौधरी ने बताया कि गृह मंत्रालय के अहम सहयोग से आईटीबीपी ने ऊंचाई वाले स्थानों के लिए दूर दराज की चौकियों के लिए आधुनिक उच्च शक्ति के एसयूवी जैसे टोयोटा फॉच्यरूनर और फोर्ड एंडेवर खरीद लिए है। एक दर्जन से अधिक स्कार्पियो एसयूवी खरीद ली गई हैं और इस वर्ष के अंत तक आईटीबीपी की योजना है कि सड़क मार्ग से जुड़े प्रत्येक बीओपी को एसयूवी उपलब्ध करवा दी जाए।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top