Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चीन से भाग रही कंपनियों को भारत आकर्षित करे: अरविंद पनगढ़िया

पनगढ़िया ने सीआईआई के सम्मेलन में कहा, ''ऐसा लगता है कि चीन में काम कर रही बड़ी कंपनियों के मामले में बड़ा बदलाव आने वाला है।

चीन से भाग रही कंपनियों को भारत आकर्षित करे: अरविंद पनगढ़िया

नई दिल्ली. भारत को बड़े पैमाने पर रोजगार पैदा करने के लिए बढ़ते वेतन और बुजुर्गों की संख्या बढ़ने के कारण चीन से बाहर जा रही बड़ी विनिर्माण कंपनियों के लिए आकर्षक गंतव्य के तौर पर उभरना चाहिए। यह बात नीति आयोग के उपाध्यक्ष अरविंद पणगढ़िया ने कही।

ये भी पढ़ें: मोबाइल बैंकिंग में एसबीआइ की 38% बाजार भागीदारी

पनगढ़िया ने यहां सीआईआई के सम्मेलन में कहा, 'ऐसा लगता है कि चीन में काम कर रही बड़ी कंपनियों के मामले में बड़ा बदलाव आने वाला है। भारत को उनके लिए गंतव्य बनना होगा। भारत के लिए इन कंपनियों को आकर्षित करने का बहुत अच्छा समय है।' उन्होंने कहा, 'चीन में जनसांख्यिकीय बदलाव (बुजुर्गों की बढ़ती संख्या) भारत के एकदम उलट है। चीन में कार्यबल घट रहा है। इसलिए श्रम केंद्रित उद्योग चीन से बाहर जा रहे हैं।' नीति आयोग के उपाध्यक्ष ने कहा, 'आज आप देखते हैं कि चीन में वेतन बढ़ रहा है और अब तक दो से तीन गुना बढ़ चुका है। विनिर्माण में यदि आप इनको भारतीय रुपए में बदलें तो सालाना औसत वेतन करीब पांच लाख रुपए बैठता है।'
कुछ कंपनियां वियतनाम व बांग्लादेश जा रही
फॉक्सकॉन जिसके 13 लाख कर्मचारी हैं, की मिसाल देते हुए उन्होंने कहा, 'इसके एक संयंत्र में आपको 20,000 कर्मचारी मिलेंगे। इस तरह की कंपनियां चीन से बाहर निकल रही हैं। यहां एक सवाल है। वे कहां जाएंगी? फिलहाल कुछ वियतनाम, बांग्लादेश, श्रीलंका जा रही हैं और कुछ भारत भी आ रही हैं।'
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top