Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इस चुनाव में खूब हुआ NOTA का इस्तेमाल, बढ़ा सकती है राजनीतिक दलों की परेशानी

NOTA को सबसे पहले 2014 के आम चुनाव में इस्तेमाल किया गया था।

इस चुनाव में खूब हुआ NOTA का इस्तेमाल, बढ़ा सकती है राजनीतिक दलों की परेशानी

18 दिसंबर को जारी हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों में भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत दर्ज की। भारतीय जनता पार्टी ने जहां गुजरात में छठी बार लगातार जीत दर्ज की है वहीं हिमाचल प्रदेश में सत्तारूढ़ कांग्रेस से एक और राज्य छीन ली है।

इस बार गुजरात चुनाव में कम वोटिंग हुई, साथ ही लोगों ने भारी मात्रा में NOTA का इस्तेमाल किया।

चुनाव आयोग से जारी आंकड़ों के अनुसार, गुजरात चुनाव में जहां भारतीय जनता पार्टी को 49.1 प्रतिशत (1,47,24,427) वोट प्राप्त हुआ, वहीं कांग्रेस को 41.4 प्रतिशत (1,24,38,937) वोट प्राप्त हुआ। गुजरात में करीब 1.8 प्रतिशत (5,51,615) वोट NOTA यानि किसी को नहीं प्राप्त हुआ है।

वहीं हिमाचल प्रदेश चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को सबसे अधिक 48.8 प्रतिशत (18,46,432) वोट प्राप्त हुआ, कांग्रेस को 41.7 प्रतिशत (15,77,450) वोट प्राप्त हुआ है। हिमाचल में NOTA की बात करें तो करीब 1 प्रतिशत (5,51,615) लोगों ने किसी भी पार्टी या उम्मीदवार को पसंद नहीं किया।

दोनों राज्यों को मिलाकर करीब 6 लाख लोगों ने NOTA का इस्तेमाल किया। NOTA के वोटों में आई बढ़ोत्तरी राजनीतिक दलों की चिंता बढ़ा सकती है। गौरतलब है कि चुनाव आयोग ने NOTA को सबसे पहले 2014 के आम चुनाव में इस्तेमाल किया गया था।

Next Story
Share it
Top