Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बेटी की शादी के बाद जनार्दन रेड्डी को IT ने भेजा नोटिस, मांगा जवाब

आयकर विभाग ने रेड्डी को 25 नवंबर तक जवाब देने को कहा है।

बेटी की शादी के बाद जनार्दन रेड्डी को IT ने भेजा नोटिस, मांगा जवाब
X
बेंगलुरु. कर्नाटक के पूर्व मंत्री जी जनार्दन रेड्डी की बेटी की शाही शादी आखिरकार आयकर विभाग के निशाने पर आ गई है। आयकर विभाग ने सोमवार को इस शादी से जुड़ी इवेंट मैनेजमेंट फर्मों के यहां छापे मारे। बता दें कि कहा जा रहा है कि 500 और 1000 रुपये के नोट बंद करने के मोदी सरकार के फैसले के बाद हुई इस शादी पर 500 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च किए गए। बेल्लारी से विधायक रहे पूर्व भाजपा नेता रेड्डी अवैध खनन मामले में तीन साल जेल में काटने के बाद फिलहाल जमानत पर हैं।
तो वहीं दूसरी तरफ अधिकारियों ने बताया कि आयकर विभाग की विभिन्न टीमों ने यहां इवेंट मैनेजमेंट फर्मो के सात ठिकानों और हैदराबाद में तीन जगहों पर छानबीन की। शादी में बेहिसाब खर्चे की खबरों के बाद यह कार्रवाई की गई है। फिलहाल इन फर्मो के बहीखाते, भुगतान की रसीदें और विभिन्न सेवाओं से जुड़े दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं। गड़बड़ी पाए जाने पर इन फर्मो और इन्हें कांट्रैक्ट देने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि सोमवार दोपहर इनकम टैक्स विभाग के अधिकारियों ने ओवुरालपुरम स्थित जनार्दन रेड्डी की माइनिंग कंपनी के दफ्तर पर छापा मारा। कर्नाटक के बेल्लारी में रेड्डी बर्दर्स की माइनिंग कंपनियों के दफ्तर हैं। हालंकि इनकम टैक्स विभाग की तरफ से फिलहाल छापे का ब्यौरा नहीं दिया गया है। बताया जाता है कि जनार्दन रेड्डी के कई ठिकानों पर इनकम टैक्स का सर्च जारी है।
सीबीआई और अन्य एजेंसियों को अभी रेड्डी की कथित तौर पर अकूत संपत्ति के बारे में पता लगाना बाकी है। 49-वर्षीय 'माइनिंग किंग' कभी कर्नाटक के सबसे ताकतवर लोगों में शुमार होते थे, और जुलाई, 2011 तक भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की बीएस येदियुरप्पा सरकार में मंत्री भी थे। वह गैरकानूनी माइनिंग (खनन) के एक मामले में तीन साल जेल में रहे, और उन्हें पिछले साल ज़मानत पर रिहा किया गया था।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top