Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बच्ची के शव को हाथों में उठाकर 6 किमी पैदल चला पिता

वर्षा ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया था जिसपर एंबुलेंस वालों ने शव को घर पहुंचाने से इनकार कर दिया।

बच्ची के शव को हाथों में उठाकर 6 किमी पैदल चला पिता
ओडिसा. एक बार फिर से इंसानियत शर्मसार हुई हैं। ओडि़सा में सिस्टम का शर्मसार करने वाला चेहरा देखने को मिला है। एक पिता को अपनी छह साल की बच्ची का शव केवल इसलिए हाथों में लेकर पैदल चलना पड़ा क्योंकि बच्ची ने अस्पताल पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया था, जिसपर एम्बुलेंस वालों ने शव को घर पहुंचाने से किया इनकार कर दिया।
मुकुंद की छह वर्षीय वर्षा बीमार थी, जिसका प्राथमिक स्वास्थ्‍य केंद्र में इलाज चल रहा था।बच्ची की हालत ज्यादा खराब होने पर डॉक्टर ने उसे दूसरे अस्पताल में ले जाने को कहा। माता-पिता बच्ची को एंबुलेंस में मलकानगिरी अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन वर्षा ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया, जिसपर एंबुलेंस वालों ने शव को घर पहुंचाने से इनकार कर दिया और बच्ची के माता पिता को आधे रस्ते में ही उतार दिया गया था। अपनी बच्ची का शव हाथों में उठाए पिता 6 किलोमीटर जक रोड पर चलता रहा। राह चलते लोगों को मुकुंद ने पूरी बात बताई। तब लोगों ने एक निजी गाड़ी का इंतजाम करके शव को गांव पहुंचा दिया।
बता दें कि मीडिया द्वारा मामला सामने आने के बाद कलेक्टर ने पूरे मामले की जांच के आदेश दिये हैं। तो वहीं एंबुलेंस में मौजूद स्वास्थ्य कर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
गौरतलब है कि मुकुंद आदिवासी है और इससे पहले पिछले हफ्ते ही एंबुलेंस नहीं मिलने की वजह से आदिवासी दाना मांझी को भी अपनी पत्नी के शव को गठरी बनाकर उठाना पड़ा था. दिल दहलाने वाले दोनों ही घटनाएं ओडिसा की हैं। ओडिसा में पिछले सोलह साल से नवीन पटनायक की सरकार है। हालांकि दाना मांझी मामले में केंद्र ने ओडिशा सरकार से पूरी रिपोर्ट मांगी है।
पीएमओ ने मांगी दाना मांझी मामले की रिपोर्ट-
प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने आदिवासी दाना मांझी के बारे में ओडिशा सरकार से पूरा ब्योरा मांगा है। ओडिसा के कालाहांडी में आदिवासी समुदाय के दाना मांझी को अस्पताल से एम्बुलेंस न मिलने पर अपनी पत्नी के शव को कंधे पर उठाकर करीब 12 किलोमीटर पैदल चलना पड़ा था। बीजू जनता दल (बीजद) के प्रवक्ता प्रताप केशारी देब ने बताया कि, ‘शुक्रवार को उन्हें पीएमओ से एक पात्र मिला है जिसमें पीएमओ ने दाना मांझी मामले का पूरा ब्योरा मांगा है।"
साभार- Ndtv
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top