Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सेना दिवस: 2 लाख सैनिकों के साथ आज ही ''आजाद'' हुई थी आर्मी, जानें कुछ अनोखी बातें

भारतीय सेना का 70वां सेना दिवस है। आज ही के दिन 1949 में भारतीय सेना पूरी तरह ब्रिटिश सेना से आजाद हो गई थी।

सेना दिवस: 2 लाख सैनिकों के साथ आज ही

हर कठिन परिस्थिति में अपनी जान की परवाह किए बगैर देश के लिए लड़ने वाली भारतीय सेना हर साल की तरह आज सेना दिवस मना रही है। आज के दिन सेना की कमान पहली बार पूर्ण रूप से भारत के हाथ में आई थी।

भारतीय थल सेना 15 जनवरी को सेना दिवस मनाती है। आज के दिन थल सेना अपनी शक्ति का प्रदर्शन करती है और प्रथम भारतीय सेनाध्यक्ष के.एम करिअप्पा के पद ग्रहण के उपलक्ष्य को बड़े धूमधाम से मनाती है।
आज भारतीय सेना का 70वां सेना दिवस है। आज ही के दिन 1949 में भारतीय सेना पूरी तरह ब्रिटिश सेना से आजाद हो गई थी। इसके साथ ही फील्ड मार्शल के एम करिअप्पा आजाद भारत के पहले सेना प्रमुख बने थे।
इसके पहले ब्रिटिश मूल के फ्रॉन्सिस बचुर बतौर सेना प्रमुख थे। करिअप्पा ने 1947 के भारत-पाक युद्ध में भारतीय सेना का नेतृत्व किया था। करिअप्पा कर्नाटक में जन्में थे और प्रथम सेनाध्यक्ष बनने के उपलक्ष्य में 15 जनवरी को सेना दिवस के रूप में मनाया जाता है।
1949 की बात करें तो तब भारतीय थल सेना में 2 लाख सैनिक थे लेकिन अब वो 13 लाख से भी ज्यादा है। सेना दिवस के दिन भारतीय सेना के जवान सेना दिवस परेड करते हैं जिसके तहत बीएलटी टी-72, टी-90 टैंक, ब्रह्मोज मिसाइल, कैरियर मोटार्र ट्रैक्ड वैहिकिल, 155 एमएम सोलटम गन, सेना विमानन दल का उन्नत प्रकाश हेलिकॉप्टर इन सभी का प्रदर्शन किया जाता है।
गौरतलब है कि सेना दिवस सामान्य रूप से नई दिल्ली के इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति में भारत के शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित करके शुरू किया जाता है।
Loading...
Share it
Top