Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ऐसे पहचाने ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट्स असली है या फर्जी!

जिन वेबसाइट्स के आगे HTTP नहीं है वहां से कभी शॉपिंग न करें।

ऐसे पहचाने ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट्स असली है या फर्जी!
नई दिल्ली. आज के भागम भाग वाली लाइफ में ऑनलाइन शॉपिंग लोगों की पसंद बनते जा रही है। वक्त की कमी की वजह से आज के दौर की जरूरत है ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स। लेकिन कभी-कभी फर्जी साइटों की वजह से आप ठगी के शिकार हो जाते हैं। इन साइटों से आपके लिए शॉपिंग तभी फायदेमंद है जब आपके पास सही जानकारी हो। क्योंकि अगर आपके पास सही जानकारी न हो तो आप फर्जी वेबसाइटों के आसानी से शिकार हो सकते हैं। इसलिए हम आपको बता रहे हैं कि वे तरीके जिन्हे जानकर आप फर्जी साइट्स को पहचान सकते हैं...
- अगर आपको किसी ऐसे साइट से कपड़े पसंद आ रहे हैं जिसका नाम आपने पहले कभी नहीं सुना है तो ऐसे में तुरंत शॉपिंग न कर लें बल्कि सबसे पहले उन वेबसाइट्स पर जाइए जो आपको ये बताएंगे कि कंपनी सही है या फेक। ऐसी ही एक urlvoid.com वेबसाइट है जो आपको ये बताएगी कि कंपनी कब से बिजनेस कर रही है।
- toolsvoid.com पर जाकर आप किसी भी ई-कॉमर्स कंपनी की सारी जानकारी हासिल कर सकते हैं। यहां तक कि आप इन साइट्स से कंपनी की डोमेन कब बनी है ये तक जानकारी जुटा सकते हैं। इसके लिए toolsvoid.com पर जाकर लेफ्ट साइड में MORE TOOLS ऑप्शन के नीचे Host who is looking पर क्लिक करें। यहां से आपको कंपनी कितनी पुरानी है ये भी जान सकते हैं। आपको बता दें कि नई साइटें जब भई आती हैं तो वह पुराने होने का दावा करती है लेकिन वास्तव में वह पुरानी नहीं होती है।
- अगर आपको कंपनी की असलियत जाननी है कि वह फेक है या नहीं तो सबसे पहले आप कंपनी की वेबसाइट में जाएं। आपको नीचे की तरफ कॉपीराइट का ऑफ्शन दिखेगा उसमें जाकर इन्फ़र्मेशन देखें। आपको बता दें कि अगर कंपनी असली है तो उस कंपनी के नाम के साथ-साथ वैट आईडी भी होगी। वैट आईडी अगर नहीं दी हुई है तो समझ जाएं कि कंपनी फेक है।
- आपको बता दें कि आप सिर्फ उन साइटों से शॉपिंग करें जिनके आगे HTTP लगा हुआ हो। इस तरह के साइट्स भरोसेमंद होते हैं। बिना HTTP वाले साइट्स से भूलकर भी शॉपिंग न करें। आप यूआरएल के लॉग के निशान से सही वेबसाइट का पता लगा सकते हैं। असली वेबसाइट्स पर यूआरएल से पहले लॉक का निशान बना होता है, जिससे पहचानना काफी आसान होता है।
- अगर कंपनी की असली होने की पहचान करनी है तो कंपनी के होम पेज पर जाएं और कंटेंट पर क्लिक करें। क्लिक करेने पर आप पाएंगे कि वहां कुछ जानकारी मौजूद ही नहीं है तो ऐसी साइट आपको ठग सकती हैँ। ऐसे शॉपिंग साइट्स से शॉपिंग करने से हमेशा बचें।
- सबसे बड़ी बात ये है कि ई-कॉर्मस साइट्स पर पेमेंट के लिए बैंक अपनी सर्विसेज देती हैं। कई बार ऐसे साइट्स आपके अकाउंट डिटेल भरवाकर आपको ठग लेती है। तो अगर आप जब भी ऐसे साइट्स से खरीददारी करें तो चौकंने रहे और अकाउंट डिटेल देने से बचें।
- अगर कोई बड़ी कंपनी किसी प्रोडक्ट पर डिस्काउंट नहीं दे रही है। और उसी प्रोडक्ट को दूसरी कंपनी जा ज्यादा फेमस न हो और भारी छूट दे रखी हो तो सावधान हो जाएं, आप ठगी के शिकार हो सकते हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top