Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सरकारी योजनाओं के प्रचार के लिए देशभर में 60 यूनिट्स खोलेगी आईबी मिनिस्ट्री

पीआईबी ऑफिस पिछड़े इलाकों में खोले जाएंगे ताकि केंद्रीय योजनाओं के प्रचार से लोगों को लाभ मिल सके।

सरकारी योजनाओं के प्रचार के लिए देशभर में 60 यूनिट्स खोलेगी आईबी मिनिस्ट्री

राज्यों में केंद्रीय योजनाओं का ठीक ढंग से प्रचार न होने की वजह से अब केंद्र सरकार ने खुद ही मोर्चा संभालने का मन बनाया है।

आगामी लोकसभा चुनाव से पहले देशभर में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत काम करने वाले प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरा (पीआईबी) के 60 बड़े मीडिया यूनिट्स खोले जाने पर व्यापक रूप से काम चल रहा है।

राज्य की राजधानियों में काम कर रहे पीआईबी ऑफिस से अलग नए ऑफिस अपेक्षाकृत पिछड़े इलाकों में खोले जाएंगे ताकि केंद्रीय योजनाओं के प्रचार से स्थानीय लोगों को समयबद्ध तरीके से लाभ मिल सके।

इसे भी पढ़ें- बजट 2018: कल खुलेगी अरुण जेटली की पोटली, मिल सकता है ये बड़ा तोहफा

इनमें गुजरात का भुज, हरियाणा का रोहतक, छत्तीसगढ़ में कोरबा, असम में सिलीगुड़ी, केरल में कोचि और बिहार में मुजफ्फरपुर जैसे जिले शामिल हैं। इन ऑफिसों का एकमात्र उद्देश्य होगा आमलोगों के बीच केंद्रीय योजनाओं का बेहतर प्रचार।

जीएसटी और नोटबंदी जैसे आमलोगों को प्रभावित करने वाली योजनाओं के फायदे भी प्रमुख हैं। संबंधित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को नए ऑफिस के लिए जगह आवंटित करने की गुजारिश सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने पत्र लिख कर किया है।

इसे भी पढ़ें- दुश्मनों को चकमा देने में माहिर है 'आईएनएस करंज', चीन और पाक की बढ़ी मुश्किलें

सबसे ज्यादा मीडिया यूनिट उप्र में खोले जाने हैं। लखनऊ में पहले ही ऐसा दफ्तर काम कर रहा है। इसके अलावा, प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र बनारस, मुजफ्फरनगर, आगरा, अलीगढ़, मोरादबाद, बरेली में भी पीआईबी के आधुनिक कार्यालय जल्द खोले जाने हैं।

केंद्रीय योजनाओं के प्रचार में इस बात का खास ख्याल रखा जाएगा कि स्थानीय भाषा में योजनाओं को अनुवाद कर आमजन तक पहुंचाया जाए। पीआईबी के वरिष्ठ अधिकारियों की टीम पहले ही स्थानातांरित कर संबंधित राज्य की राजधानियों में तैनात कर दी गई है। नया दफ्तर खुलते ही उनकी तैनाती वहां सुनिश्चित की जाएगी।

Next Story
Share it
Top