Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

धार्मिक बंधन तोड़ शादी के बंधन में बंधेंगे IAS टॉपर टीना और अतहर

पहली नजर में ही दोनों को एक दूसरे से प्यार हो गया।

धार्मिक बंधन तोड़ शादी के बंधन में बंधेंगे IAS टॉपर टीना और अतहर
नई दिल्ली. आपको 2015 के यूपीएससी नतीजों में टॉप करने वाली लड़की का नाम तो याद होगा ही। टीना डाबी जिसने यूपीएससी में टाप करके खुब सुर्खियां बटोरीं थी। और उनके बाद दूसरे नंबर पर रहे अतहर आमिर-उल-शफी खान वो भी याद होंगे। अथर उस वक्त दूसरा स्थान पाने से थोड़े मायूस थे। लेकिन भले ही अथर टीना से पिछड़ कर दूसरे नंबर पर रहे हों लेकिन उन्होंने पहले नंबर पर रहीं टीना का दिल जीत लिया है। जी हां अब ये दोनो शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं।
दिल्ली के लेडी श्रीराम कॉलेज से ग्रेजुएशन करने वाली 22 वर्षीय टीना को यूपीएससी फाइनल में 2,025 अंकों में से 1,063 अंक (52.49 फीसदी) मिले थे। वहीं दूसरा स्थान हासिल करने वाले जम्मू-कश्मीर के अतहर आमिर-उल-शफी खान को 1,018 अंक (50.27 फीसदी) अंक मिले थे।
फिलहाल टीना की मसूरी के लाल बहादुर शास्त्री नैशनल एकैडमी फॉर ऐडमिनिस्ट्रेशन में ट्रेनिंग चल रही है। इस बारे में पूछने पर टीना ने कहा कि उनकी और अथर की शादी की तारीख तो फिलहाल तय नहीं हुई है लेकिन दोनों की सगाई बहुत जल्द होने वाली है।
पहली नजर में प्यार
11 मई को जब टीना और अतहर नॉर्थ ब्लॉक स्थित डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग के दफ्तर में मिले तो पहली नजर में ही दोनों को एक दूसरे से प्यार हो गया। टीना बताती हैं, 'हम सुबह मिले और शाम को अथर मेरे दरवाजे पर था। उसे पहली नजर में ही मुझसे प्यार हो गया था। अगस्त का महीना आते-आते मुझ पर भी उसका जादू चल गया था। मैं अथर की गंभीरता और उनके धीरज के लिए उन्हें हर दिन धन्यवाद देती हूं। वह एक बेहद अद्भुत इंसान हैं।'
रिश्ते को कभी दुनिया से छिपाया नहीं
टीना और अतहर ने अपने रिश्ते को कभी दुनिया से छिपाया नहीं। फेसबुक पर हमेशा ही दोनों साथ में छुट्टियां मनाने और घूमने फिरने की तस्वीरें पोस्ट करते रहते हैं। दोनों आईएएस टॉपर के रिश्ते को लेकर एक तरफ जहां लोगों में उत्सुकता है वहीं कुछ लोग टीना की आलोचना भी कर रहे हैं। कुछ लोग जहां टीना से यह जानना चाहते हैं कि वह क्यों अपना समय बर्बाद कर रही थीं तो वहीं कुछ अथर को अपना पार्टनर चुनने पर भी उनसे सवाल पूछ रहे हैं। टीना कहती हैं, 'हम एक दूसरे से प्यार करते हैं और बहुत खुश हैं। लेकिन मैं जब हमारे बारे में इस तरह की बातें पढ़ती हूं तो मैं परेशान हो जाती हूं। हमने अपने बारे में खबरें पढ़ना बंद कर दिया है। मुझे लगता है कि पब्लिक के सामने रहने की कीमत चुकानी पड़ रही है।'
मैं एक स्वतंत्र आत्मनिर्भर महिला हूं
अपनी आलोचना के बारे में टीना कहती हैं, 'मैं एक स्वतंत्र आत्मनिर्भर महिला हूं और मुझे अपने लिए चुनाव करने का अधिकार है। अथर और मैं हम दोनों अपनी पसंद से बहुत खुश हैं। हमारे माता-पिता भी खुश हैं। इन सबके बीच ऐसे लोग हमेशा होते हैं जो दूसरे धर्म के इंसान के साथ रिश्ते में बंधने पर आपके खिलाफ नकारात्मक बाते कहते हैं। ऐसे लोग सिर्फ 5 प्रतिशत ही हैं। ज्यादातर लोग हमारे इस रिश्ते से खुश हैं। आपने मेरे फेसबुक टाइमलाइन पर देखा होगा कि ज्यादातर कमेंट हमें हिम्मत देने वाले हैं। मैं लोगों के समर्थन और मुबारकबाद के मेसेज से काफी खुश हूं।'
रिजर्व कैटेगिरी से आती हैं टीना
जब टीना से यह पूछा गया कि उन्हें कैसा लगता है जब दलित समुदाय के कई लोग उन्हें अपने आइकन के तौर पर देखते हैं। इस पर टीना कहती हैं, 'मुझे नहीं लगता कि इस वक्त मैं किसी की आइकन हो सकती हूं क्योंकि मैंने अभी तक ऐसा कोई ठोस काम नहीं किया है। कड़ी मेहनत, ईश्वर के आशीर्वाद और भाग्य के साथ की वजह से मैं इस परीक्षा में टॉप करने में सफल रही। लेकिन यह सिर्फ एक परीक्षा है। अभी मुझे फील्ड पर जाकर बेहतर काम करना है और खुद को साबित करना है। मुझे पता है कि समाज में दलित वर्ग को लेकर लोगों की मान्यता ऐसी है कि कोई सोच भी नहीं सकता कि कोई दलित स्टूडेंट कभी किसी परीक्षा में टॉप भी कर सकता है। इसलिए अगर मैं किसी स्टूडेंट को बढ़ावा दे सकूं तो मुझे लगता है कि यह अच्छी बात होगी।'
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top