Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नया रूल: TAX भरने से पहले जान लें ये जानकारी, वरना टैक्स पड़ेगा आपकी जेब पर भारी

टैक्स भरने से पहले आपको यह जानना जरूरी है कि आपको अपनी आय का कितने प्रतिशत टैक्स भरना है ?

नया रूल: TAX भरने से पहले जान लें ये जानकारी, वरना टैक्स पड़ेगा आपकी जेब पर भारी
X

किसी भी देश के अर्थव्यवस्था में विकास के लिए टैक्स का अपना महत्व होता है। और एक बेहतर और इमानदार नागरिक होने के नाते आपको टैक्स का योगदान करना आ चाहिए । पर हम आपको बता दें कि जो आप मेहनत से पैसा कमाते है क्या उस कमाई का सही प्रतिशत आप टैक्स के तौर पर देते है। कही आपकी कम जानकारी आपके जेब पर भारी ना पड़ जाए।

इनकम का कितने प्रतिशत टैक्स भरना है ?

इसे भी पढ़े :7वां वेतन आयोग: सरकारी कर्मचारियों को जल्द मिलेगी बहुत बड़ी खुशी

आयकर रिटर्न को जमा करने में अब कुछ ही समय रह गया है ऐसे में आपको सबसे पहले ये जानना जरूरी है कि आपकी कुल कर योग्य आय कितना है। जिसके बाद आपको यह भी मालूम होना चाहिए कि आपकी इनकम किस टैक्स स्लैब में आती हैं।

यह जानने के लिए टैक्स को जमा करने से पहले आपको एलटीए, घर का किराया और होम लोन की किसत समेत अन्य कटौती को अपनी कमाई से अलग करना होगा। पर आपको इस कटौती के लिए सबूत देना होता है।इसके बाद आप यह देखे कि आपकी कर योग्य आय किस टैक्स स्लैब में आती है।

सभी कटौती के बाद आपका कर भूकतान

इसे भी पढ़े: AAP संकट: दिल्ली मुख्य सचिव से बदसलूकी, IAS एसोसिएशन हड़ताल पर गई

2017-18 वित्तीय वर्ष के लिए आपको 2.5 लाख कि आय पर आपको किसी भी प्रकार का टैक्स नहीं देना होगा। वही 2.5 लाख से 5 लाख की आय पर आपको 5 फीसदी टैक्स देना होगा। और अगर आपकी आय 5 से 10 लाख के बीच है तो 20 फीसदी टैक्स का भुक्तान करना होगा। वही 10 लाख से ऊपर की आय पर 30 फीसदी टैक्स का भुक्तान करना होगा।

आपको बता दें कि सभी कटौती के बाद अगर आपकी आय 3.5 लाख या उससे कम है तो आपको 2500 रुपये का अलग से लाभ मिलेगा। ये सेक्शन 87ए के तहत आपको कर के भुक्तान में छूट मिलती हैं।

3 फिसदी एजुकेशन सेस

ऐसे में आपकी सालभर की आय 5 लाख आती है तो 2.5 लाख से 5लाख के टैक्स स्लैब में आएंगे। यहां आपको 5 फिसदी टैक्स देना होगा। 5 फिसदी भूक्तान के तौर आपको सिर्फ 12500 रुपये टैक्स के तौर पर देने होंगे।

यहां आपका यह जानना जरूरी है कि 5 लाख की कर योग्य आय में आपको 2500 रुपये पर कर में छूट नहीं मिलेगा। क्योंकि कर में छूट 3.5 लाख या उससे कम की रकम पर ही मिलता हैं। कुल टैक्स के भूक्तान में आपकी 3 फिसदी एजुकेशन सेस भी देना होता हैं। यानि कि आपको एजुकेशन सेस में 1500 रूपए आधिक कर देना होगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

और पढ़ें
Next Story