Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हांगकांग ने भारतीयों के वीजा फ्री एंट्री पर लगाई रोक

माना जा रहा है कि हांगकांग ने चीन के दबाव में यह कदम उठाया है।

हांगकांग ने भारतीयों के वीजा फ्री एंट्री पर लगाई रोक
X
बीजिंग. चीन ने भारत पर दबाव बनाने के लिए एक नया हथकंडा अपनाया है। चीन के विशेष प्रशासकीय क्षेत्र हांगकांग में भारतीयों के वीजा फ्री एंट्री पर रोक लगा दी गई है। भारतीय पर्यटकों को झटका देते हुए हांगकांग ने भारतीयों के लिए वीजामुक्त प्रवेश की सुविधा को वापस ले लिया है। अब हांगकांग जाने वाले भारतीयों को जनवरी से आगमन पूर्व पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करना होगा।

हांगकांग ने चीन के दबाव में यह कदम उठाया
माना जा रहा है कि हांगकांग ने चीन के दबाव में यह कदम उठाया है। बता दें कि हांगकांग, चीन का विशेष प्रशासकीय क्षेत्र है। हांगकांग के इमीग्रेशन डिपार्टमेंट ने मंगलवार को अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर घोषणा की, 'भारतीय नागरिकों के लिए आगमन पूर्व पंजीकरण व्यवस्था को 23 जनवरी 2017 से लागू किया जाएगा। भारतीय नागरिकों के लिए आगमन पूर्व पंजीकरण अब खोल दिया गया है।
ऑनलाइन आगमन पूर्व पंजीकरण के लिए अप्‍लाई
टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, हांगकांग स्‍पेशल एडमिनिस्‍ट्रेटिव रीजन (HKSAR) में आने से पहले भारतीय नागरिकों को ऑनलाइन आगमन पूर्व पंजीकरण के लिए अप्‍लाई करना होगा और इसे पूरा करना होगा। जो भारतीय नागरिक सीधे हवाई मार्ग से आएंगे और एयरपोर्ट से बाहर नहीं जाएंगे, उनके लिए आगमन पूर्व पंजीकरण की जरूरत नहीं होगी।
यह कदम भारतीयों के लिए झटका
हांगकांग का यह कदम उन पांच लाख से ज्‍यादा भारतीयों के लिए झटके की तरह है जो बिजनस, व्‍यापार और हॉलिडे के लिए वहां का रुख करते हैं। अभी तक हांगकांग वैध पासपोर्ट वाले भारतीयों को बिना वीजा के अपने यहां आने और 14 दिनों तक ठहरने की सुविधा देता रहा है।
भारतीयों की तादाद में बढ़ोतरी का हवाला
हांगकांग ने इस सुविधा को समाप्‍त करने के पीछे शरण की चाहत रखने वाले भारतीयों की तादाद में बढ़ोतरी का हवाला दिया है। हालांकि, भारतीय अधिकारियों का कहना है कि हांगकांग शरणार्थियों के मामले का इस्‍तेमाल बहाने के तौर पर कर रहा है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story