Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इस वजह से गिरफ्तार नहीं हो पा रही है राम रहीम की राजदार हनीप्रीत

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की राजदार हनीप्रीत सिंह की तलाश में पुलिस और जांच एजेंसियां सरगर्मी से जुटी हैं।

इस वजह से गिरफ्तार नहीं हो पा रही है राम रहीम की राजदार हनीप्रीत
डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की राजदार हनीप्रीत सिंह की तलाश में पुलिस और जांच एजेंसियां सरगर्मी से जुटी हैं। नेपाल से लेकर देश के कई राज्यों में इसको लेकर अलर्ट जारी किया गया है। बावजूद इसके हनीप्रीत पकड़ में नहीं आ रही है। ऐसे में जांच एजेंसियों पर ही सवाल उठ रहे हैं।
हरियाणा पुलिस ने अब नेपाल, राजस्थान के बाद अब बिहार पुलिस से हनीप्रीत के तलाश के लिए संपर्क साधा है। हनीप्रीत को लेकर बिहार के 9 जिलों में बाकायदा अलर्ट जारी किया गया है। जगह-जगह राम रहीम की राजदार के पोस्टर लगा दिए गए हैं।

लगातार ठिकाने बदल रही हनीप्रीत

हनीप्रीत जिस तरह से लगातार अपने ठिकाने बदल रही है, उससे लगता है कि उसकी कोई न कोई मदद जरूर कर रहा है। इसमें डेरे के लोग ही नहीं, कुछ पुलिस वाले भी हो सकते हैं। यही वजह है कि हनीप्रीत का कोई ठोस सुराग नहीं मिल रहा है।
सूत्रों की मानें तो रोहतक जेल से निकलने के बाद हनीप्रीत दो दिनों के लिए सिरसा के डेरे में रही। यहां उसने सारे सबूतों और डेरे के खजाने को ठिकाने लगाया और फरार हो गई। पुलिस ने पहले नेपाल में उसकी खोजबीन की, लेकिन कुछ हाथ नहीं लगा।
इसके बाद हनीप्रीत से जुड़े लोगों की गिरफ्तारी हुई। पूछताछ में पता चला कि वो राजस्थान में हैं, लेकिन अब सुनने में आ रहा है कि हनीप्रीत बिहार में छिपी है। हैरानी की बात है कि पुलिस को कोई सफलता नहीं मिल रही है।

पुलिस और जांच एजेंसियों में तालमेल का अभाव

लंबे समय तक हनीप्रीत के गिरफ्तार नहीं होने पर अब हरियाणा पुलिस और जांच एजेंसियों पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं। सवाल यह भी उठता है कि आखिर पुलिस ने हनीप्रीत को रोहतक जेल से ही गिरफ्तार क्यों नहीं किया। इतना ही नहीं, पुलिस-प्रशासन ने सिरसा डेरे में खोजबीन अभियान को 14 दिनों बाद क्यों शुरू किया।
इससे भी हनीप्रीत और अन्य आरोपियों को सबूत नष्ट करने और फरार होने का पूरा मौका मिल गया। खास बात यह है कि हरियाणा पुलिस और जांच एजेंसियों के बीच तालमेल का भी अभाव साफ दिख रहा है। यही वजह है कि हनीप्रीत के ठिकाने का सुराग मिलने के बाद भी वो आसानी से फरार हो जाती है।
इस बीच हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बीएस संधू अपने उस बयान से भी पलट गए हैं कि हनीप्रीत के ड्राइवर को राजस्थान से गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने कहा है कि इस मामले में उन्हें गलतफहमी हो गई थी। दरअसल, पुलिस ने लैंड क्रूजर जलाने के आरोपी हरमेल सिंह को गिरफ्तार किया है।
Next Story
Top