Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हनीप्रीत के ससुर ने किए ''राम रहीम और हनी'' के संबंधों के खुलासे

हनीप्रीत के ससुर पहली बार मीडिया के सामने आए।

हनीप्रीत के ससुर ने किए

राम रहीम की दुलारी हनीप्रीत के बारे में और खुलासे करने के लिए हनीप्रीत के ससुर महेंद्र गुप्ता पहली बार मीडिया के सामने आए। महेंद्र करनाल के रहने वाले हैं। महेंद्र ने कहा कि को वो 1969 में शाह सतनाम जी के करिश्मों को देखकर डेरे से जुड़े थे।

महेंद्र ने कहा कि राम रहीम को सारे अनुयायी उसे भगवान मानते थे लेकिन वो भगवान नहीं बलात्कारी और ढोंगी है।

महेंद्र ने कहा कि राम रहीम ये दावा करता है कि 6 करोड़ श्रद्धालू उसके अनुयायी हैं लेकिन ये महज बकवास है ऐसा कुछ भी नहीं है। राम रहीम जैसे कई बाबा मौजूद हैं भारत में। महेंद्र ने राम रहीम की काली करतूतों का खुलासा करते हुए कहा कि डेरे में खरीदी गई जमीन किसानों को तंग करके ली गई है।
महेंद्र ने कहा कि राम रहीम भोली संगत को लूटता था। महेंद्र ने कहा कि जब देश में प्राकृतिक आपदा आती थी तो राम रहीम के डेरे से मदद मांगी जाती थी लेकिन वो नहीं देता था। महेंद्र ने कहा कि शाह सतनाम जी भगवान थे और राम रहीम को शाह सतनाम के बराबर स्थान देकर लोगों ने उसपर विश्वास किया और अपनी बेटियों को साध्वी बनाया।
हनीप्रीत को बताया था अपना उत्तराधिकारी
महेंद्र गुप्ता ने कहा कि राम रहीम ने खुलेआम ये ऐलान किया था कि मेरे बाद हनीप्रीत ही सबकुछ संभालेगी और वही उत्तराधिकारी होगी। महेंद्र ने कहा कि राम रहीम और हनीप्रीत के बीच मियां बिवी वाले संबंध थे।
महेंद्र ने कहा कि जब राम रहीम 2009 में हनीप्रीत को डेरा ले गया तभी मेरा उससे मोहभंग हो गया था। महेंद्र ने कहा कि राम रहीम मेरे बेटे विश्वास गुप्ता को मारना चाहता था ताकी वो हनीप्रीत को आराम से अपने पास रख सके और अपनी अय्याशी को अंजाम दे सके।
विश्वास ने खोला था ये राज
गौरतलब है कि हनीप्रीत के पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने बताया था कि राम रहीम और हनीप्रीत के बीच अवैध संबंध हैं। उनके बीच बेटी और पिता जैसा कोई रिश्ता नहीं है। विश्वास ने बताया कि वो सिर्फ नाम के लिए हनीप्रीत का पति था बल्कि सच्चाई तो ये थी कि बस नाम विश्वास का था और काम राम रहीम का।
Next Story
Top