logo
Breaking

पहले एक दूसरे के गले मिलकर रोईं हनीप्रीत-विपश्यना, फिर हुई तीखी तकरार

हनीप्रीत और विपश्यना से पुलिस ने आमने-सामने पूछताछ की।

पहले एक दूसरे के गले मिलकर रोईं हनीप्रीत-विपश्यना, फिर हुई तीखी तकरार

हरियाणा पुलिस ने शुक्रवार को हनीप्रीत और डेरा सच्चा सौदा की चेयरपर्सन से विपश्यना इंसा से पूछताछ की। हरियाणा पुलिस की एसआईटी टीम की ये पूछताछ करीब 5 घंटों तक चली। जब विपश्यना पुलिस के साथ पूछताछ के लिए आई तो हनीप्रीत उसे देखकर रोने लगी।

विपश्यना भी भावुक हो गई और फिर दोंनों गले मिलकर रोईं। पूछताछ के दौरान दोनों में तीखी तकरार होने लगी। विपश्यना को पहले भी पूछताछ के लिए बुलाया गया था लेकिन अस्थामा का अटैक आने के कारण विपश्यना इसमें शामिल नहीं हो पाईं थीं।
सूत्रों के मुताबिक हनीप्रीत ने विपश्यना पर हिंसा के लिए योजना बनाना वाली 17 अगस्त को हुई बैठक में शामिल होने का आरोप लगाया तो विपश्यना को गुस्सा आ गया और उन्होंने इससे साफ इंकार कर दिया। इसे लेकर दोनों में बहस हो गई।
बहस को बढ़ता देख एसआईटी अधिकारियों ने दोनों को चुप कराया। विपश्यना ने कहा कि न मुझे याद है कि मैं उस मीटिंग में गई और न ही मैं गई। उसने कहा कि वो डेरे में मौजूद रहती है पर उसे और भी बहुत से काम होते हैं।
हनीप्रीत ने कहा कि उसने अपना मोबाइल फोन, लैपटॉप और डायरी विपश्यना को दी थी लेकिन विपश्यना ने इस बात से इंकार किया की उसे कोई लैपटॉप या डायरी मिली है। हालांकि फोन दिए जाने की बात उसने कबूली।
पुलिस ने बताया की विपश्यना ने कई सवालों का जवाब देनें में काफी वक्त लगाया। पुलिस ने पूछताछ के बाद हनीप्रीत को पंचकूला कोर्ट में पेश किया जहां पुलिस द्वारा रिमांड न मांगे जाने पर कोर्ट ने हनीप्रीत को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।
Loading...
Share it
Top