Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हिज्बुल मुजाहिदीन का आह्वान, घर लौट आएं कश्मीरी पंडित

हिज्बुल कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा की जिम्मेदारी लेता है

हिज्बुल मुजाहिदीन का आह्वान, घर लौट आएं कश्मीरी पंडित
श्रीनगर. आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन ने 1990 में आतंकवाद की शुरुआत पर घाटी से विस्थापित होने को मजबूर हुए कश्मीरी पंडितों को सुरक्षा का आश्वासन देते हुए उन्हें अपने घरों में वापस लौटने के लिए कहा है। संगठन ने कहा कि वह सिख युवकों का एक अलग समूह बनाने की योजना बना रहा है।
इस संगठन का स्वयंभू कमांडर जाकिर रशीद भट उर्फ 'मूसा' ने एक संक्षिप्त वीडियो संदेश में कहा, 'हम कश्मीरी पंडितों से अपने अपने घरों में वापस लौटने का आग्रह करते हैं। हम उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी लेते हैं।'
गौरतलब है कि आतंकवाद के पैर पसारने पर आतंकवादी संगठनों द्वारा कश्मीरी पंडितों को निशाना बनाए जाने के बाद हजारों कश्मीर पंडित घाटी छोड़ने के लिए मजबूर हुए थे और तभी से वे जम्मू तथा देश के अन्य भागों में रह रहे हैं।
वहीं मारे जा चुके आतंकवादी बुरहान वानी के 'उत्तराधिकारी' ने कहा, 'उन्हें उन पंडितों को देखना चाहिए जो कभी कश्मीर छोड़कर नहीं गए। उन्हें परेशान या उनकी हत्या किसने की?' वीडियो में सैन्य पोशाक और एक हथगोले के साथ खेलते नजर आए भट ने एक अनोखी दलील दी कि मुस्लिमों को निशाना बनाने की योजनाबद्ध रणनीति के तहत पंडितों को घाटी छोड़ने के लिए मजबूर किया गया।
भट ने पंजाब के एक कॉलेज से इंजीनियरिंग का कोर्स बीच में छोड़ दिया था और कुछ साल पहले हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हुआ था। उसने दावा किया कि सरकार पंजाब में 'ऑपरेशन ब्लू स्टार' की तरह एक अभियान में घाटी में कार्रवाई की योजना बना रही है।
भट ने 1।38 मिनट के वीडियो में खुलासा किया कि वह संगठन में सिख युवकों के लिए एक अलग समूह बनाने की योजना बना रहा है। उसने कहा, 'हमारे सिख भाई हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल होने के लिए हमसे आग्रह कर रहे हैं।।। हम हर मोर्चे पर उनके साथ हैं और इंशाअल्लाह, हम संगठन में सिखों के लिए एक विशेष समूह बनाने की कोशिश करेंगे और इसे बनाएंगे।'
घाटी खासकर दक्षिण कश्मीर के जिलों में हथियार छीनने की ताजा घटनाओं के बारे में भट ने कहा, 'कई युवकों ने जिहाद का रास्ता अपनाया है, हथियार छीनकर वे हमारे समूह में शामिल हुए।' किसी अज्ञात जगह पर बनाए गए इस वीडियो में धार्मिक नारों वाले दो हरे बैनर और उसके पीछे दोनों तरफ हथियार देखे जा सकते हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
hari bhoomi
Share it
Top