Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

धर्म संसद में बोले स्वामी नरेन्द्रनाथ, कहा- हिंदुओं के हाथ में मोबाइल नहीं हथियार हो

स्वामी नरेंद्र नाथ ने धर्म संसद के मंच से कहा कि हिंदू समुदाय को बेहद खतरा है।

धर्म संसद में बोले स्वामी नरेन्द्रनाथ, कहा- हिंदुओं के हाथ में मोबाइल नहीं हथियार हो

धर्म संसद के दौरान कर्नाटक के उडुपी में स्वामी नरेंद्र नाथ ने विवादित बयान दिया है। स्वामी नरेंद्र नाथ ने धर्म संसद के मंच से हिंदुओं से मोबाइल दूर रखकर हथियार उठाने की अपील की है।

स्वामी नरेंद्र नाथ ने इस दौरान कहा कि आपको लाखों रुपये की कीमत के मोबाइल रखने की क्या जरूरत है? हर हिंदू के पास मोबाइल की जगह हथियार होने चाहिए।

इसे भी पढ़ें- फेसबुक पोस्ट से बवाल: भीड़ ने बांग्लादेश में हिंदुओं के 30 घरों को फूंका, एक की मौत

स्वामी नरेन्द्र नाथ ने हथियार रखने की इस अपील को सुरक्षा और आत्मरक्षा से जोड़ दिया। ज्ञात हो कि कर्नाटक के उडुपी में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) की ओर से आयोजित तीन दिवसीय धर्म संसद चली। इस धर्म संसद का रविवार को आखिरी दिन था।

आत्मरक्षा का लिया सहारा

स्वामी नरेंद्र नाथ ने कहा कि जिस वक्त हिंदू मंदिरों पर हमले हो रहे हों और पूजा स्थलों को नष्ट किया जा रहा हो, यहां तक कि संसद को निशाना बनाया जा रहा हो, ऐसे में हर किसी के पास आत्मरक्षा के लिए हथियार होने चाहिए।

हिन्दू समुदाय को खतरा

स्वामी नरेंद्र नाथ ने धर्म संसद के मंच से ये भी कहा कि हिंदू समुदाय को बेहद खतरा है। उन्होंने कहा कि देश के मंदिर आतंकियों के निशाने पर हैं। ऐसे में मोबाइल फोन की नहीं, हथियारों की जरूरत है।

गोविंददेव के बयान का समर्थन

स्वामी नरेंद्र नाथ ने बच्चे पैदा करने को लेकर शनिवार को धर्म संसद में दिए गए स्वामी गोविंददेव के बयान का भी समर्थन किया।

उन्होंने कहा कि सिर्फ हिंदू ही क्यों 2 बच्चों की पॉलिसी पर अमल करें। नरेंद्र नाथ ने कहा, ‘अगर मुस्लिम और ईसाइयों के 20 बच्चे करते हैं तो हिंदुओं के भी इतने ही बच्चे होने चाहिए।’

Next Story
Share it
Top