Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नोटबंदी से मची अफरातफरी, यूं करें अपनी और दूसरों की मदद

इस समस्या को बढ़ाने में कुछ ऐसे लोग भी शामिल हैं, जो अपने कई एटीएम कार्ड्स का इस्तेमाल कर अधिक कैश निकाल रहे हैं।

नोटबंदी से मची अफरातफरी, यूं करें अपनी और दूसरों की मदद
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 500 और 1000 रुपए के नोटों को कागज के टुकड़े में बदलने के ऐलान के बाद से कंसल्टेंट्स का धंधा चमक गया है। लोगों में अपने-अपने नोटों को बैंक खातों में जमा कराने के लिए होड़ सी मची है। लोग बैंक के बाहर लंबी-लंबी कतारों में लग कर अपने पैसे जमा करने में लगे हैं। कुछ लोग जिनके पास आय से ज्यादा रकम मौजूद हैं वो सोच रहे हैं कि कैसे इपने पैसों को बैंक अकाउंट में धकेल दें।
नोटों को अमान्य किए जाने के बाद से देश भर के बैंकों और एटीएम पर नोट बदलवाने और निकासी के लिए अफरातफरी का माहौल है। इस समस्या को बढ़ाने में कुछ ऐसे लोग भी शामिल हैं, जो अपने कई एटीएम कार्ड्स का इस्तेमाल कर अधिक कैश निकाल रहे हैं। इसके अलावा वह बाजार में भी रकम खर्च नहीं कर रहे, जिससे मार्केट में नई करंसी का फ्लो कम है। आप इनसे बचने के अलावा कुछ और कदम उठाकर इस समस्या से निपटने में मदद कर सकते हैं। इससे खुद को तो सुविधा होगी ही, बल्कि अन्य लोगों को भी सहूलियत होगी।
  • डेबिट, क्रेडिट कार्ड और नेट बैंकिंग का अधिक से अधिक इस्तेमाल करें। अधिकतर शॉपिंग मॉल्स, सफल स्टोर और अन्य सरकारी संस्थानों में इनके जरिए पेमेंट किया जा सकता है।
  • केंद्र सरकार की ओर से 24 नवंबर तक जरूरी सेवाओं में पुराने नोटों को इस्तेमाल करने की छूट दे दी गई है। ऐसे में नए नोटों को लेने के लिए बैंकों में लंबी लाइन में लगना जरूरी नहीं है।
  • यदि आप बैंक में नकद निकासी के लिए जा रहे हैं तो आप चेक और विदड्रॉल स्लिप का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आपको लंबी लाइन में नहीं लगना होगा।
  • यदि आप किसी को पेमेंट करना चाहते हैं तो इसका विकल्प यह भी है कि पहले आप अपने खाते में राशि जमा कर दें और उसके बाद नेट बैंकिंग के जरिए उसे संबंधित व्यक्ति के खाते में ट्रांसफर कर दें। ध्यान दें कि नेट बैंकिंग पर बैंक कोई चार्ज नहीं ले रहे हैं।
  • पेमेंट के लिए आप चेक भी जारी कर सकते हैं। इससे आपको और संबंधित व्यक्ति को बैंक की लंबी लाइन में नहीं जूझना पड़ेगा।
  • यदि आपके पास एक से अधिक एटीएम कार्ड हैं तो भी एक का ही इस्तेमाल करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को कैश मिल सके। यहां पर जापान में आई सुनामी का उदाहरण समीचीन होगा, जहां हर व्यक्ति को पानी की दो-दो बोतलें दी गई थीं, लेकिन लोगों ने जरूरतमंदों को इनमें से भी एक शेयर कर दी।
  • एटीएम या फिर बैंक से निकाली गई रकम को रखने की बजाय बाजार में खर्च करें ताकि कैश फ्लो कमजोर न हो।
  • बैंक की शाखाओं में व्यवस्था बनाने में सहयोग करें। इससे बैंकों का सुचारू संचालन हो सकेगा।
  • युवा वर्ग के लोग बुजुर्गों, महिलाओं और दिव्यांगों की मदद कर सकते हैं।
  • अफवाहों पर ध्यान न दें। इसके अलावा आम लोगों को भी समझाएं कि पुराने नोटों का कहां-कहां इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • नोटों को 30 दिसंबर के बाद भी रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के दफ्तरों में मार्च तक बदला जा सकता है। इसलिए परेशान न हों।
  • किसी से भी पुराने नोट की पेमेंट ले सकते हैं। इसे आसानी से बैंक में जमा कराया जा सकता है।
  • सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे किसी भी कॉन्टेंट की सच्चाई को जान लें। बिना हकीकत जाने किसी भी मेसेज को फॉरवर्ड न करें। ऐसी ही एक फर्जी तस्वीर यह भी है, जिसे वॉट्सऐप पर जमकर शेयर किया जा रहा है।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top